Blog

Bundelkhand Expressway
Bureau | July 24, 2022 | 0 Comments

Uttar Pradesh’s Bundelkhand Expressway has been caved in due to rain

Bundelkhand Expressway : बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की दो पुलिया धंसीं, चार जगह और आईं दरारें

Two culverts of bundelkhand expressway collapsed four more cracks occurred

जिस लेन पर दरारें आई हैं, उसे रोककर दूसरी ओर से वाहनों को निकाला जा रहा है। एक्सप्रेसवे के जगह जगह खराब होने से गुणवत्ता पर सवाल उठने लगे हैं। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की जिले में कुल लंबाई लगभग 79 किलोमीटर है।

बारिश से बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की सड़क पर चार और जगह दरारें आ गईं हैं। दो जगह पुलिया धंस गई हैं। 20 से ज्यादा जगह कगार की मिट्टी कटकर बह गई। जिस लेन पर दरारें आई हैं, उसे रोककर दूसरी ओर से वाहनों को निकाला जा रहा है। एक्सप्रेसवे के जगह जगह खराब होने से गुणवत्ता पर सवाल उठने लगे हैं।

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की जिले में कुल लंबाई लगभग 79 किलोमीटर है। मवई गांव से चित्रकूट की तरफ जाने पर एक्सप्रेसवे के किलोमीटर संख्या 41.6 पर स्थित पुलिया शनिवार को धंसी मिली। इससे एक्सप्रेसवे की दोनों तरफ सड़क पर दरारें आ गईं। लगभग तीन मीटर लंबाई में आधा फीट सड़क फटी है। इसी तरह 46.3 किलोमीटर पर बारिश से हाईवे किनारे की मिट्टी बह गई। इससे गहरे गड्ढे हो गए हैं।

चित्रकूट के भरतकूप से 10 किलोमीटर दूर बदौसा क्षेत्र से जिले की सीमा शुरू होकर महोबा के कबरई में समाप्त होती है। मवई से कबरई की ओर किलोमीटर संख्या 40 पर कगार की मिट्टी बहने से पुलिया क्षतिग्रस्त हो गई। सड़क भी धंस गई। एक्सप्रेसवे फेज-1 के सिविल इंजीनियर मोहितदीन का कहना है कि बारिश अधिक हो जाने से एक्सप्रेेसवे की पुलिया क्षतिग्रस्त हुई है और सड़क भी धंसी है। इसकी मरम्मत कराई जा रही है। एक्सप्रेसवे की मरम्मत का काम तेजी से चल रहा है। दो से तीन दिन में मरम्मत का काम पूरा कर लिया जाएगा।

शाम होते ही एक्सप्रेसवे पर आ जाते मवेशी

मवई और हथौरा गांव के पास शाम होते ही अन्ना व पालतू मवेशियों का बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर विचरण शुरू हो जाता है। इन्हें रोकने की व्यवस्था नहीं है। कार्यदायी संस्था के अधिकारियों का कहना है कि आसपास के गांवों के लोग मवेशी चरने के लिए छोड़ देते हैं, वही सड़क पर आ जाते हैं।

मरम्मत में लगाए 500 से अधिक मजदूर

तेज बारिश की वजह से जगह जगह धंसे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की मरम्मत कराने के लिए यूपीडा ने 500 से अधिक मजदूर लगाए हैं। ये मजदूर कटान और सड़क के धंसे हिस्सों को ठीक करने में जुटे हैं। शनिवार देर शाम डीएम अवनीश राय और एसएसपी जयप्रकाश सिंह ने भी मरम्मत कार्य का जायजा लिया। 16 जुलाई को बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का लोकार्पण हुआ था।

बृहस्पतिवार रात से हुई तेज बारिश से एक्सप्रेसवे पर किलोमीटर संख्या 288 से 296 तक आठ किलोमीटर की दूरी में छह जगह कटान हो गया। किलोमीटर संख्या 284 पर एक जगह और किलोमीटर संख्या 286.5 से 286.7 तक 200 मीटर दूरी में चार बड़े कटान हुए थे। किलोमीटर संख्या 290 पर भी एक कटान हुआ है। किलोमीटर संख्या 288 पर सड़क भी धंस गई।

Bureau
Author: Bureau

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Bureau

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Related Posts

Leave a Comment

Your email address will not be published.