Blog

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष तथा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश

Samajwadi Party ask for resignation of Chief Minister Yogi Adityanath

समाजवादी पार्टी सरकार ने रणजीत बच्चन को दिया था राज्यमंत्री का दर्जा, गिनीज बुक में भी दर्ज है नाम

विश्व हिंदू महासभा के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष रणजीत बच्चन लंबे समय तक समाजवादी पार्टी से भी जुड़े रहे हैं। वह सपा के लिए गोरखपुर में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करवाते थे और पत्नी कालिंदी निर्मल शर्मा के साथ सपा की शांति सद्भावना यात्रा में भी भागीदारी की थी। सपा की साइकिल यात्रा में भाग लेने पर ही मुलायम सरकार ने रणजीत को राज्यमंत्री का दर्जा भी दिया था। सात लाख किमी से अधिक की साइकिल यात्रा में भाग लेने पर गिनीज बुक ऑफ वर्ड रिकॉर्ड में भी उनका नाम दर्ज है।

उनकी हत्या पर सपा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा और उनसे इस्तीफे की मांग की है। सपा के ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया गया है कि लखनऊ में दिनदहाड़े हिन्दू महासभा के अध्यक्ष की हत्या से आम जनमानस में दहशत! उत्तर प्रदेश में सरकार और पुलिस का इकबाल खत्म हो गया है! निकम्मी सरकार तत्काल इस्तीफा दें।

सपा सरकार में रणजीत को लखनऊ की ओसीआर बिल्डिंग में फ्लैट आवंटित किया गया था। उनकी दो पत्नियां थीं। पहली पत्नी का नाम कालिंदी और दूसरी का स्मृति है। पहली पत्नी गोरखपुर में रहती है और संबंध विच्छेद हो जाने के बाद पहली पत्नी ने ही गोरखपुर में रंजीत के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी।

रंजीत बच्चन रविवार सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। तभी हजरतगंज में बाइक सवार बदमाशों ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि हत्या में प्रोफशनल शूटरों का सहारा लिया गया था। रंजीत के सिर में तीन गोलियां लगी हैं।

रंजीत के साथ उनके भाई आदित्य भी उनके हाथ में गोली लगी है। जिससे हाथ में फैक्चर हो गया। आदित्य को इलाज के बाद हजरतगंज कोतवाली ले जाया गया। जहां उनसे पूछताछ की जा रही है।

‘लगातार हो रही हिंदू नेताओं की हत्या’

हत्या के बाद अखिल भारतीय हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष राजीव कुमार आशीष घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि रणजीत बच्चन हमारी पार्टी में लंबे समय तक कार्यकारी अध्यक्ष रहे हैं और मौजूद समय में विश्व हिंदू महासभा के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष थे। उनकी हत्या से साबित हो जाता है कि हिंदू नेता लगातार निशाने पर हैं।

इसके पहले अक्टूबर में हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की निर्ममता से हत्या कर दी गई थी। मैं सरकार से मांग करता हूं कि रंजीत के हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी हो और हिंदू नेताओं को सुरक्षा मुहैया करवाई जाए। लगातार हो रही हिंदू नेताओं की हत्या पुलिस पर भी सवाल खड़े कर कर रही है।

हिंदूवादी नेता की हत्या पर अखिलेश यादव बोले, सत्ता परिवर्तन के बाद ही जनता को मिलेगी राहत

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने हिंदूवादी नेता रणजीत बच्चन की दिनदहाड़े पर हत्या पर योगी सरकार पर निशाना साधा। जारी किए गए बयान में उन्होंने कहा कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था के हालात बिगड़ते जा रहे हैं। मुख्यमंत्री दिल्ली में प्रचार में व्यस्त हैं। यहां राजधानी में दिनदहाड़े हत्या हो गई।

रामनगरी अयोध्या में बम से हमला हुआ तो हापुड़ में दो बहनों से सामूहिक दुष्कर्म की घटना घटी। हरचंदपुर रायबरेली में युवती की हत्या हो गई। छेड़छाड़, लूट, हत्या, बलात्कार में उत्तर प्रदेश सभी राज्यों को पीछे छोड़ रहा है। विदेश तक में यूपी की बदनामी हो रही है। 2022 में सत्ता परिवर्तन के बाद ही जनता को इससे राहत मिल सकेगी।

अखिलेश के अलावा विपक्ष की अन्य पार्टियों ने भी सरकार पर निशाना साधा

48 घंटे में अपराधी नहीं पकड़े गए तो आंदोलन-शिवसेना

शिवसेना के प्रदेश प्रमुख विश्वजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश में हिंदूवादी सरकार है फिर भी हिंदुओं की हत्याएं हो रही हैं। पहले कमलेश तिवारी की हत्या हुई और अब रणजीत बच्चन को मार दिया गया। शिवसेना ने कहा, 48 घंटे में अपराधियों की गिरफ्तारी न होने पर शिवसेना प्रदेश भर में प्रदर्शन करेगी।

यूपी बन गया हत्याओं का प्रदेश : कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ‘लल्लू’

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ‘लल्लू’ ने आरोप लगाया है कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था पूरी तरह फेल हो चुकी है। मुख्यमंत्री योगी अपना प्रदेश छोड़ प्रचार मंत्री के रूप में देशभर में घूम रहे हैं। यूपी हत्याओं का प्र्रदेश बन गया है। ऐसी सरकार को बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है। मुख्यमंत्री को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

सरकार नहीं चला पा रहे योगी : बसपा

बसपा के प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली ने कहा कि घटना बहुत गंभीर है। पार्टी निंदा करती है। प्रदेश की कानून-व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार नहीं चला पा रहे हैं। उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

पुलिस व सरकार का इकबाल खत्म : सुभासपा

कुछ महीनों पहले तक सरकार की साझीदार रही सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि राजधानी में दिन-दहाड़े हत्या से जनता में दहशत है। प्रदेश में सरकार व पुलिस का इकबाल खत्म हो गया है। कमिश्नर सिस्टम लागू होने के बाद भी मुख्यमंत्री योगी की नाक के नीचे हत्याओं का सिलसिला जारी है। मुख्यमंत्री को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Related Posts

Leave a Comment

Your email address will not be published.