Blog

Flat
Bureau | June 24, 2020 | 0 Comments

Faridabad district is becoming hideout for miscreants

बदमाशों के लिए छिपने का ठिकाना बन रहा ग्रेटर फरीदाबाद की विभिन्न सोसायटियां

बदमाशों के लिए फरीदाबाद छिपने का सुरक्षित ठिकाना बनता जा रहा है। ताजा मामला रेवाड़ी पुलिस द्वारा एक इनामी बदमाश की गिरफ्तारी का है। सूत्रों का कहना है कि हत्या व लूट सहित कई मुकदमों में नामजद यह आरोपित काफी समय से फरीदाबाद में छिपा हुआ था। उसके कुछ स्थानीय बदमाशों के संपर्क में आने की बात भी पता चली है। मंगलवार को रेवाड़ी पुलिस ने ग्रेटर फरीदाबाद की सेक्टर-76 स्थित पार्क फ्लोर सोसायटी की घेराबंदी कर उसे दबोचा।

यह पहला मामला नहीं है जब दूसरे जिले या राज्यों के बदमाशों की फरीदाबाद से धरपकड़ हुई हो। पिछले साल 21 जुलाई को लोनी गाजियाबाद के 25 हजार के इनामी बदमाश प्रदीप का मुठभेड़ के बाद पकड़ा गया था। वह करीब डेढ़ महीने से एसआरएस रेजिडेंसी ईडब्ल्यूएस फ्लैट में छिपकर रह रहा था। इससे पहले गांव तिगांव निवासी नरेंद्र उर्फ निदर पर फरीदाबाद में कई मुकदमों में वांछित था। उत्तर प्रदेश में भी उसके ऊपर कई मुकदमे दर्ज थे। नोएडा पुलिस ने उस पर 25 हजार का इनाम घोषित किया था। उसे सुंदर भाटी गैंग का सक्रिय गुर्गा माना जाता है। 27 अप्रैल 2019 को क्राइम ब्रांच सेक्टर-85 ने उसे गिरफ्तार किया।

गांव दीघौट पलवल निवासी जसबीर और गांव मोहना निवासी जयवीर ने भी काफी समय से फरीदाबाद में शरण ली हुई थी। इनके ऊपर हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट और रंगदारी मांगने के मामले दर्ज थे। 27 अप्रैल 2019 को क्राइम ब्रांच सेक्टर-65 पुलिस ने इन दोनों को गिरफ्तार किया। गांव तिगांव निवासी सचिन उर्फ मूसा को क्राइम ब्रांच सेक्टर-85 पुलिस ने 13 अप्रैल 2019 को गिरफ्तार किया। उसके ऊपर नोएडा में कई मुकदमे दर्ज थे। इसके अलावा कुलभूषण उर्फ कुल्लू व नागेश को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भिजवाया।

ग्रेटर फरीदाबाद की सोसायटियों को सुरक्षित मान रहे अपराधी

ग्रेटर फरीदाबाद की विभिन्न सोसायटियों में खासतौर से ईडब्ल्यूएस फ्लैट्स अपराधियों के लिए सुरक्षित ठिकाने बन रहे हैं। इन फ्लैट्स का किराया ज्यादा नहीं होता। वहीं इनमें आने जाने को लेकर ज्यादा रोक-टोक नहीं होती। आस-पास फ्लैट में रहने वालों को भी एक दूसरे से ज्यादा मतलब नहीं होता। ऐसे में अपराधी चुपचाप आकर इन फ्लैट्स में रुक जाते हैं।

पिछले दिनों दिल्ली पुलिस ने एक युवक को ग्रेटर फरीदाबाद की एक सोसायटी में ईडब्ल्यूएस फ्लैट से गिरफ्तार किया था। नाबालिग लड़की को भगाकर उसने फ्लैट में रखा हुआ था। फरीदाबाद को सुरक्षित ठिकाना समझना बदमाशों की भूल है। कोई बदमाश यहां शरण लेता है तो हमारी टीमें उसके प्रति नरमी नहीं बरतेंगी। इसमें संदेह नहीं है कि फरीदाबाद में अपराध कर बदमाश यूपी में जाकर छिपे हुए थे। हमारी टीमों ने बेहद मेहनत के बाद उन्हें ढूंढा और गिरफ्तार किया। -मकसूद अहमद, डीसीपी क्राइम

Bureau
Author: Bureau

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Bureau

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Related Posts

Leave a Comment

Your email address will not be published.