मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से उनके सरकारी आवास 5, कालिदास मार्ग पर 16 मार्च, 2015 को जल पुरुष श्री राजेन्द्र सिंह ने भेंट की।

‘Waterman’ Mr. Rajendra Singh calls on Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से उनके सरकारी आवास 5, कालिदास मार्ग पर 16 मार्च, 2015 को जल पुरुष श्री राजेन्द्र सिंह ने भेंट की।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से उनके सरकारी आवास 5, कालिदास मार्ग पर 16 मार्च, 2015 को जल पुरुष श्री राजेन्द्र सिंह ने भेंट की।

खेती और प्रकृति के संतुलन से होगा जल संरक्षण

बुंदेलखंड में स्वच्छ पेयजल की समस्या लगातार बढ़ रही है। ऐसे में महिलाओं ने जल संरक्षण के लिए कदम बढ़ाए और जल सहेली बन शुरू कर दी कवायद। उनके इस कदम को सलाम करते हुए उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया ग्राम विकास मंत्री अरविंद सिंह गोप ने, जो सोमवार को परमार्थ समाज सेवी संस्थान की ओर से सहकारिता भवन में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे। विषय था बुंदेलखंड के विशेष संदर्भ में जल संरक्षण एवं संवद्र्धन पर जनसुनवाई।

नदियों के उद्धार को पूरी मदद : मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव  ने कहा कि नदियों के उद्धार, पोखरे संरक्षित करने के अभियान को पूरी मदद मिलेगी। बुंदेलखंड की चन्द्रावल व लखारी नदी बचाने का प्रयास तेज होगा। वह ‘जल पुरुषÓ राजेन्द्र सिंह से लुप्त होती नदियों व तालाबों की स्थिति पर चर्चा कर रहे थे। राजेन्द्र ंिसह ने कहा कि नदियां व तालाब सामूहिक धरोहर हैं, जिनका अस्तित्व मनुष्य के अस्तित्व से जुड़ा हुआ। मुख्यमंत्री ने चन्द्रावल व लखारी नदियों को पुनर्जीवित करने में पूरी मदद देने का भरोसा दिलाया और अधिकारियों को निर्देश भी दिये।

नीर, नारी, नदी का सम्मान

जल पुरुष राजेंद्र सिंह ने कहा कि सभी को संकल्प लेना होगा कि वह नीर, नारी और नदी का सम्मान करेंगे, तभी समस्या का निदान होगा। जब तक इनका सम्मान किया गया, तब तक ही हम दुनिया को सिखाने लायक थे। उन्होंने कहा कि जल समस्या के दो प्रमुख कारण हैं। पहला यह कि हमने प्रकृति का सम्मान और उसके साथ जीना छोड़ दिया। दूसरा राज और समाज के बीच विश्वास कम हो गया है।

महिलाओं ने उठायी आवाज

जन सुनवाई में बुंदेलखंड क्षेत्र में पानी की आजीविका व स्वच्छता जैसी बुनियादी आवश्यकताओं पर जोर दिया गया। साथ ही पानी पर महिलाओं के प्रथम अधिकार की मान्यता के लिए शासन और जिले स्तर पर सहयोग, समर्थन और स्थायी जल सुरक्षा के लिए बनायी जा रही समुदाय आधारित कार्य योजना को शासन से स्वीकृति दिलाने की बात रखी गयी। इस मौके पर कृषि विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों ने अपनी बात रखी। हमीरपुर, जालौन और ललितपुर से आयी जल सहेलियों ने जल संरक्षण समस्याओं का जिक्र कर उनके निराकरण की मांग की। इस पर सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव दीपक सिंघल ने आश्वासन दिया कि सूखते तालाबों को पुन: जीवन देने के लिए पूरी मदद की जाएगी। इस पर भी ध्यान दिया जाएगा कि खेती करने में प्रकृति के साथ संतुलन बनाकर चला जाए यानी पानी बर्बाद न हो सके। प्रतिभा शिन्दे, खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव आर विक्रम सिंह आदि ने भी बैठक को संबोधित किया।

Expresses concern on state of drying ponds and fast disappearing rivers

Requests Chief Minister to do his bit to conserve these rivers

Chief Minister lauds work done by Mr. Rajendra Singh to preserve and revival of the rivers, assures full cooperation in the noble cause

Popularly known as ‘Water Man’ and Magsaysay award winner Mr. Rajendra Singh today met Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav and expressed his concern on the state of drying ponds and fast disappearing rivers. He pointed out that the rivers and ponds were our collective heritage which were directly linked to the existence of humanity.

He specifically showed concern over the state of Chandraval river in Mahoba and Lakhari river in Jhansi and said that the Chief Minister do his bit to save these rivers. The Chief Minister while lauding the noble efforts of Mr. Rajendra Singh towards preserving and reviving rivers and other water bodies, assured him of all cooperation and support from the state government.

Mr. Yadav also issued instructions to the concerning officers to work for revival of the Chandraval river in Mahoba and Lakhari river in Jhansi.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *