मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

UP Government failed to control corona crisis and on law and order issue: Akhilesh Yadav

न कोरोना संकट निपटा, न ही अपराधियों पर लगाम लगा पा रही सरकार : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने अब तक के कार्यकाल में कड़े बयान और कड़े कानून के नाम पर जनता को बहकाने का काम किया है। सरकार न तो कोरोना संकट निपट पा रही है और न ही अपराधियों पर लगाम लग रही है। अपराधियों से लोग दहशत में हैं। मुख्यमंत्री की दिव्य शक्तियां असर नहीं दिखा रही हैं।

अखिलेश ने शुक्रवार को पूछा कि कोई कानून सख्त या लचीला कैसे हो सकता है। कानून तो कानून है। उसे कैसे लागू किया जाता है, यह लागू करने वाले पर निर्भर करता है। केवल सख्त बयान से कोई कानूनी पहल असरदार नहीं हो सकती है। भाजपा सरकार रोज नए-नए कानून की आड़ लेकर अपनी नाकामी पर पर्दा डाल रही है।

उन्नाव के केसरी खेड़ा गांव में एनआरआई के बेटे की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। फिरोजाबाद में एक युवक को गोली मारी गई तो बदायूं में ग्रामीण की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। बुलंदशहर में पुलिस के नकारापन से एक दुष्कर्म पीड़िता ने आत्महत्या कर ली और दूसरी युवती ने छेड़छाड़ से तंग आकर जहर खाकर जान दे दी।

इन जिलों की घटनाओं का किया जिक्र

उन्होंने कहा, लखनऊ में गुंडा टैक्स न देने पर प्लास्टिक व्यापारी को मजबूरी में फांसी लगानी पड़ गई। देवरिया के गौरी बाजार थाना क्षेत्र में एक बैंक ग्राहक सेवा केंद्र के कर्मचारी को दबंगों ने गोली मारकर 5.40 लाख रुपये लूट लिए। हर रोज होने वाली वारदातों पर शासन-प्रशासन का ध्यान शायद नहीं जाता है।

कहा, भाजपा राज में गरीब किसान, नौजवान की बात नहीं सुनी जाती है। बात सुनी जाती है बड़े-बड़े पूंजीपतियों की। प्रदेश में लोग बीमारी से कम अपराधियों की गोली से ज्यादा मर रहे हैं।

भाजपा के जंगलराज में महिला होना सबसे बड़ा अपराध: अखिलेश यादव

सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार में अपराधी को सत्ता का संरक्षण और अपराध को सामने लाने वाले पर केस दर्ज होने का अजीबोगरीब खेल चल रहा है। कानून व्यवस्था का यह नया रंग-ढंग महिलाओं को निराशा में आत्महत्या करने को मजबूर कर रहा है। पिछड़े, दलित और महिलाओं में असुरक्षा की भावना गहरे से घर कर गई है। वे घर-बाहर भयाक्रांत रहती हैं। एक तरह से तो भाजपा के जंगलराज में महिला होना ही सबसे बड़ा अपराध हो गया है।

अखिलेश यादव ने बृहस्पतिवार को बयान में कहा कि दलित समाज की बेटियों पर अत्याचार थमने का नाम नहीं ले रहा है। अयोध्या के ग्राम नारा में सत्ता संरक्षित दबंगों ने दलित किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। पीड़ित परिवार का सरकार से प्रश्न है कि इस बेटी को कब इंसाफ  मिलेगा ? मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर में स्कूटी सवार युवतियों का सड़क पर निकलना मुश्किल हो रहा है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पर ट्वीट कर लोकतंत्र की हत्या का बयान देने वाले मुख्यमंत्री के राज में महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने और अपराधी को पकड़ने के बजाय उसे उजागर करने वाले को ही पकड़ा जा रहा है। फतेहपुर में दो नाबालिग बहनों का शव मिलने पर मां का बयान चैनल पर चलाने के जुर्म में मुकदमा दर्ज कर दिया गया है।

सपा अध्यक्ष ने कहा, जिस प्रकार बलात्कार, यौन उत्पीड़न और छेड़खानी के मामले बढ़े हैं, उससे हताशा और अवसाद में आकर कई बहन-बेटियों को आत्महत्या को मजबूर होना पड़ा है। सरकार पिंक बूथ और मिशनशक्ति जैसे दिखावटी कार्यक्रमों में समय बिता रही हैं। उसका एंटी रोमियों स्क्वायड हवा में है। सपा सरकार ने अपराध नियंत्रण और महिला सुरक्षा के लिए 1090 वूमेन पावर लाइन और यूपी डायल 100 सेवा शुरू की थी। भाजपा ने उसे बर्बाद कर दिया। खुद तमाम अपराधों में भाजपा नेता पदाधिकारी संलिप्त हैं। भाजपा सरकार इनको बचाने में ही सारी ताकत लगाए हुए है। जनता की जानमाल की सुरक्षा की उसे फिक्र नहीं है।

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *