सोनिया गांधी

Sonia Gandhi alliance ensure BJP defeat in 2019 Lok Sabha election

सोनिया गांधी
सोनिया गांधी

सोनिया गांधी ने ढूंढ निकाला PM मोदी का तोड़, बताया 2019 में ऐसे हारेगी भाजपा

कांग्रेस संसदीय दल (सीपीपी) की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 2019 लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए समान विचार वाले दलों के साथ गठबंधन पर विचार करने की बात कही है।

दिल्ली में सीपीपी मीटिंग में सोनिया ने कहा कि ‘गुजरात विधानसभा और राजस्थान उपचुनाव में पार्टी ने बेहतर प्रदर्शन किया है। ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष (राहुल गांधी) और समान विचार वाले दलों के साथ जुड़कर काम करने के लिए मैं भाजपा को 2019 में हराने के लिए तैयार हूं। जिससे भारत एक बार फिर लोकतांत्रिक, समावेशी, धर्मनिरपेक्ष, सहिष्णु और आर्थिक रूप से प्रगति के पथ पर वापस लौट आएगा।’

यही नहीं सोनिया ने आगे कहा ‘गुजरात और राजस्थान में पार्टी के प्रदर्शन से साफ है कि देश में बदलाव की हवा चल निकली है इसलिए सभी कार्यकर्ता 2019 की तैयारी शुरू कर दें।’

गौरतलब है कि कांग्रेस ने गुजरात चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर देते हुए 80 सीटों पर जीत हासिल की थी वहीं हाल ही में राजस्थान में विधानसभा की तीन सीटों पर हुए उपचुनाव में पार्टी ने भाजपा को हराया है।

गौरतलब है कि 2014 में हुए आम चुनाव में कांग्रेस को भाजपा ने बुरी तरह हराया था। कांग्रेस महज 44 सीटों पर ही सिमट कर रह गई थी। वहीं भाजपा ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और नरेंद्र मोदी के करिशमे के चलते कुल 283 सीटें हासिल की थीं।

सोनिया गांधी ने राहुल को कहा ‘बॉस’, कांग्रेस अध्यक्ष बनने पर दी बधाई

16 दिसंबर 2017 को राहुल गांधी की ताजपोशी कांग्रेस पार्टी में अध्यक्ष के तौर पर की गई थी। राहुल के अध्यक्ष पद संभालने के पहले से ही सोनिया गांधी की सक्रियता पार्टी में कम हो गई थी। गुरुवार को सोनिया गांधी ने राहुल गांधी को अध्यक्ष पद संभालने पर बधाई दी है। उन्होंने कहा कि अब राहुल गांधी, मेरे बॉस हैं।

इस मौके पर उन्होंने राहुल गांधी के कामकाज की तारीफ भी की। राहुल ने कहा गुजरात चुनाव और राजस्थान उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी का प्रदर्शन शानदार रहा। उम्मीद जताई की आने वाले कर्नाटक चुनाव में भी पार्टी का प्रदर्शन शानदार रहेगा। सोनिया ने अपने बयान में कहा कि जिस तरीके से कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मेरे कार्यकाल में काम किया। उम्मीद है कि राहुल की अगुवाई में भी कार्यकर्ता वैसे ही काम करेंगे।

इस मौके पर कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष ने बीजेपी को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को सत्ता में आए चार साल हो चुके हैं। सरकार की वजह से लोकतंत्र पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। जिसका असर समाज, मीडिया, संसद और न्यायपालिका पर भी देखने को मिला। सोनिया गांधी ने रोजगार कम होने के मामले के लिए भी मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा किया।

इधर सोनिया के रिटायरमेंट पर पार्टी ने कहा है कि सोनिया गांधी सिर्फ पार्टी के अध्यक्ष पद से ही रिटायर हुई हैं। राजनीति में उनकी सक्रियता बनी रहेगी।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *