समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

Samajwadi Party leader detained during protest at Chief Minister Yogi Aadityanath program in Vrindavan

मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने व प्रदर्शन करने पर हिरासत में लिए समाजवादी पार्टी नेता, पार्टी में रोष

पराली जलाने पर किसानों पर लिखे जा रहे मुकदमे और मथुरा में विकास कार्य की केवल घोषणा से सपाईयों में उबाल दिखा। गुरुवार को हाईवे पुलिस ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ज्ञापन देने जा रहे समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश प्रदेश सचिव समेत 12 सपाइयों को पुष्पाजंलि उपवन से हिरासत में लिया, वहीं वृंदावन की रमणरेती के पास प्रदर्शन कर रहे लोहिया वाहिनी के जिलाध्यक्ष समेत पांच समाजवादी पार्टी नेताओं को हिरासत में ले लिया।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की अगवानी करने मथुरा आए योगी आदित्यनाथ को ज्ञापन देने के लिए समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश सचिव प्रदीप चौधरी पुष्पाजंलि उपवन पर सपाइयों के साथ निकल रहे थे। इसकी भनक हाईवे पुलिस को लग गई।

थाना हाईवे के प्रभारी निरीक्षक सदुवनराम गौतम ने सपाईयों को हिरासत में लिया। इन सभी को हाईवे थाने लाया गया। समाजवादी पार्टी नेता का कहना है कि पराली जलाने के मामले में किसानों को बेवजह फंसाकर जेल भेजा रहा है, जबकि किसानों का कोई दोष नहीं है।

उधर, समाजवादी पार्टी लोहिया वाहिनी जिलाध्यक्ष भारत भूषण शर्मा के नेतृत्व में सपाइयों ने वृंदावन के रमणरेती के पास प्रदर्शन किया। सपाइयों की मांग थी कि बार-बार मथुरा आने के बाद भी मुख्यमंत्री विकास की बजाए विनाश करवा रहे हैं। पूरा महानगर खुदा पड़ा हुआ है।

यह सपाई लिए गए हिरासत में

समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश सचिव प्रदीप चौधरी, लोहिया वाहिनी जिलाध्यक्ष भारत भूषण शर्मा, सुभाष पाल, मुन्ना मलिक, मंगल यादव, पवन चौधरी, कृष्ण मुरारी, हेमंत चौधरी, महेंद्र चौधरी, संमुदर गुर्जर, मुरारीलाल, गोविंद पेंटर, कृपाल सिंह, सैय्यद शाहिद अल्वी, अशोक यादव, राघवेंद्र ठाकुर, रचित शर्मा

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *