मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को 4 मई, 2016 को श्री नवनीत सहगल ’मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ का स्पेशल मेंशन सर्टीफिकेट सौंपते हुए।

President of India gives a ‘Special Mention Certificate’ to Uttar Pradesh at the 63rd National Film Award Ceremony under the ‘Most Film Friendly State Award’

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को 4 मई, 2016 को श्री नवनीत सहगल ’मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ का स्पेशल मेंशन सर्टीफिकेट सौंपते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को 4 मई, 2016 को श्री नवनीत सहगल ’मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ का स्पेशल मेंशन सर्टीफिकेट सौंपते हुए।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को प्रमुख सचिव, सूचना ने ’मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ सौंपा

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को आज यहां उनके सरकारी आवास पर प्रमुख सचिव, सूचना व अध्यक्ष फिल्म बन्धु श्री नवनीत सहगल ने उत्तर प्रदेश को 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों के तहत प्रदान किए गए ’मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ का स्पेशल मेंशन सर्टीफिकेट सौंपा।मुख्यमंत्री ने कहा कि फिल्म निर्माण के नजरिए से उत्तर प्रदेश एक बेहतरीन स्थान है। यहां पर अनेक ऐतिहासिक, सांस्कृतिक महत्व के स्थलों के साथ-साथ कई आकर्षक और फिल्म निर्माण के लिहाज से बेहतर स्थल भी मौजूद हैं।

समाजवादी सरकार ने प्रदेश में फिल्म निर्माण को बढ़ावा देने के लिए अनेक प्रभावी कदम उठाए हैं। इसके तहत नई फिल्म नीति लागू करने के साथ ही फिल्म निर्माण को बढ़ावा देने के लिए सिंगल विण्डो क्लीयरेन्स सिस्टम, अनुदान हेतु आॅनलाइन पोर्टल, प्रोडक्शन एवं पोस्ट प्रोडक्शन से सम्बन्धित सुविधाएँ, आकर्षक फिल्म सब्सिडी की व्यवस्था, बेहतर फिल्मों को मनोरंजन कर से मुक्त करना, फिल्म-प्रतिभाओं को बेहतर फिल्म-प्रशिक्षण सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। इससे फिल्म निर्माताओं के लिए प्रदेश में फिल्म निर्माण काफी आकर्षक और सुविधाजनक हुआ है। इससे प्रदेश में फिल्म निर्माण गतिविधियों में काफी बढ़ोत्तरी हुई है तथा युवाओं और स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी बढ़े हैं।

गौरतलब है कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा सोमवार को नई दिल्ली में आयोजित 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में उत्तर प्रदेश को ’मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ के अन्र्तगत स्पेशल मेंशन सर्टीफिकेट प्रदान किया गया था। प्रदेश की ओर से श्री नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव, सूचना/अध्यक्ष फिल्म बन्धु, उत्तर प्रदेश ने राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी से यह अवाॅर्ड प्राप्त किया था।

इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चैधरी भी मौजूद थे।

‘मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ के अंतर्गत राष्ट्रपति द्वारा उत्तर प्रदेश को 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में सम्मानित किया गया

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आज नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी द्वारा उत्तर प्रदेश को ’मोस्ट फिल्म फ्रेेन्डली स्टेट अवाॅर्ड’ के अंतर्गत ‘स्पेशल मेंशन सर्टीफिकेट प्रदान किया गया।

उत्तर प्रदेश की ओर से श्री नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव, सूचना/अध्यक्ष फिल्म बन्धु, उत्तर प्रदेश ने सूचना एवं प्रसारण मंत्री, भारत सरकार श्री अरुण जेटली की उपस्थिति में महामहिम श्री राष्ट्रपति से यह अवाॅर्ड ग्रहण किया।

ज्ञातव्य है कि यह अवाॅर्ड फिल्म-निर्माण व इससे जुड़ी अन्य गतिविधियों को बढ़ावा देने हेतु फिल्म निर्माताओं को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दी जाने वाली बेहतर सुविधाओं के दृष्टिगत प्रदान किया गया है।

यह अवाॅर्ड उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा फिल्म-शूटिंग के लिए सिंगल-विन्डो सिस्टम लागू करने, प्रोडक्शन एवं पोस्ट प्रोडक्शन से सम्बन्धित सुविधाएँ उपलब्ध कराने, फिल्म निर्माण को बढावा देने के लिए आकर्षक फिल्म सब्सिडी (अनुदान) प्रदान करने, फिल्म-निर्माण की अनुमति हेतु डेडिकेटेड वेब पोर्टल के माध्यम से आॅनलाइन प्रक्रिया लागू करने, फिल्म-प्रोडक्शन एवं पोस्ट-प्रोडक्शन से सम्बन्धित सुविधाओं, फिल्म-निर्माण से सबन्धित उपकरणों के आपूर्तिकर्ताओं, फिल्म टैलेन्ट/क्रू तथा फिल्ममेकर्स का डेटाबेस तैयार करने, फिल्म-लोकेशन्स, ऐतिहासिक इमारतों, होटल्स एवं फिल्म निर्माताओं के लिए आवश्यकतानुसार एम्बुलेंस तथा एयर-लिफ्टिंग आदि इमरजेन्सी सेवाओं का डेटाबेस तैयार करने, फिल्म-प्रतिभाओं को बेहतर फिल्म-प्रशिक्षण सुविधाएं उपलब्ध कराने तथा राज्य को बेहतर फिल्म डेस्टिनेशन के रूप में प्रचारित-प्रसारित करने के लिए अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर किए गए प्रयासों के लिए प्रदान किया गया है।

फिल्म अवाॅर्ड प्रदान करने के लिए भारत सरकार के प्रति आभार व्यक्त करते हुए प्रमुख सचिव सूचना/अध्यक्ष फिल्म-बन्धु, उत्तर प्रदेश श्री नवनीत सहगल ने बताया कि उत्तर प्रदेश को फिल्म निर्माण का हब बनाने के लिए मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के कुशल नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाये हैं।

मुख्यमंत्री के कुशल नेतृत्व व मार्गदर्शन का ही परिणाम है कि उत्तर प्रदेश राज्य को भारत सरकार द्वारा ‘स्पेशल मेन्शन सर्टीफिकेट अवाॅर्ड’ से नवाजा गया है। श्री सहगल ने बताया कि उत्तर प्रदेश में निर्मित होने वाली फिल्मों को शासनादेश में निहित आवश्यक औपचारिकताएं पूर्ण करने पर अधिकतम 3.75 करोड़ (तीन करोड़ पहचत्तर लाख) रुपये तक अनुदान दिए जाने का प्राविधान किया गया है।

उत्तर प्रदेश के कलाकारों के लिए स्पेशल इन्सेंटिव तथा प्रदेश में फिल्म प्रोडक्शन एवं पोस्ट प्रोडक्शन कराये जाने पर अतिरिक्त अनुदान की भी व्यवस्था की गयी है। उत्तर प्रदेश के युवा कलाकारों को अपनी प्रतिभा का विकास करने के लिए एफ0टी0आई0 पुणे एवं सत्यजीत रे फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान, कोलकाता में प्रशिक्षण हेतु छात्रवृत्ति की व्यवस्था की गई है।

श्री सहगल ने बताया कि फिल्म नीति के प्रभावी क्रियान्वयन तथा फिल्म निर्माताओं को आवश्यक सुविधायें उपलब्ध कराने हेतु प्रदेश के सभी जनपदों में जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में ‘फिल्म-प्रमोशन एण्ड फेसेलिटेशन-कमेटी’ का गठन किया गया है।

यह कमेटी फिल्म निर्माताओं द्वारा फिल्म की शूटिंग के लिए प्रार्थना-पत्र प्रस्तुत करने पर शूटिंग स्थल की अनुमति, फिल्म यूनिट की सुरक्षा व्यवस्था, शासकीय गेस्ट हाउस/पर्यटन अतिथि गृह में उनके ठहरने की व्यवस्था तथा शूटिंग के बाद शूटिंग दिवसों के संबंध में जिलाधिकारी कार्यालय से प्रदान किये जाने वाले प्रमाण-पत्र के समयबद्ध निर्गमन आदि का अनुश्रवण करती है तथा जनपद में विभागों के स्तर पर आने वाली कठिनाइयों का त्वरित निराकरण भी कराती है।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के कुशल मार्गदर्शन एवं प्रेरणा के कारण ही फिल्मों के निर्माण एवं अनुदान हेतु फिल्म बन्धु उत्तर प्रदेश को लगभग 150 प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। फिल्म बन्धु के गठन के बाद से अब तक 25 फिल्मों को अनुदान दिया जा चुका है और लगभग 15 फिल्मों को मुख्यमंत्री द्वारा शीघ्र ही अनुदान दिया जाएगा।
प्रदेश में फिल्म निर्माण को बढ़ावा देने के लिए फिल्म निर्माताओं को समस्त आवश्यक सुविधायें उपलब्ध कराई जा रही हैं और फिल्म-गतिविधियों के उन्नयन के लिए फिल्म निर्माताओं के सुझावों को क्रियान्वित किया जा रहा है।

राष्ट्रपति 3 मई, 2016 को 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्रमुख सचिव, सूचनाअध्यक्ष फिल्म बन्धु‘मोस्ट फिल्म फ्रेण्डली स्टेट अवाॅर्ड’प्रदान करते हुए।
राष्ट्रपति 3 मई, 2016 को 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्रमुख सचिव, सूचनाअध्यक्ष फिल्म बन्धु‘मोस्ट फिल्म फ्रेण्डली स्टेट अवाॅर्ड’प्रदान करते हुए।

Film Policy declared by UP Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav praised at the Award Ceremony

Principal Secretary (Information)/Chairman, Film Bandhu Mr. Navneet Sehgal receives the award on behalf of State

Uttar Pradesh state has been given the ‘Special Mention Certificate’ under the “Most Film Friendly State Award’ by President of India Shri Pranab Mukherjee at the 63rd National Awards ceremony held today at the Vigyan Bhawan in New Delhi.

Principal Secretary (Information)/Chairman Film Bandhu Mr. Navneet Sehgal received the award on behalf of the state, from the President, in the presence of Union Minister for Information and Broadcasting Mr. Arun Jaitley. It may be pointed out here the award was bestowed upon the state for providing good facilities to film producers in the state. Among other facilities, the award has been given to the state government with regards to implementing a single-window policy, providing facilities for production and post-production, providing attractive subsidy for film production, dedicated web portal for permission for production of film, online facility for applying, creating a database for crew/filmmakers/film talent and providers of film shooting equipment.

The efforts of the state government to create a database of film locations, historical buildings, hotels and ensuring availability of ambulance, air-lifting and emergency services and promoting the state as a better film destination at international level, were also behind this award.

Expressing his gratitude to the Government of India, for the film award, Mr. Navneet Sehgal said that the state government, under the able leadership of the Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav had taken many initiatives to make the state a shooting hub.

He further added that it was result of this farsightedness and proactive working of the Chief Minister that the state has been given the ‘special mention certificate award’. Mr. Sehgal also informed that once the formalities for subsidy are completed as laid down in the government order, the state offers a maximum of Rs. 3.75 crore as subsidy.

For artists from Uttar Pradesh, special incentive and additional subsidy for film production and post production in the state were also offered. For young artists to hone their talent, a scholarship has also been arranged for training at the FTI Pune and Satyajeet Ray Film and Television Institute, Kolkata.

Mr. Sehgal also informed that for effective implementation and execution of the film producers and for providing necessary facilities, a ‘film promotion and facilitation committee’ has been formed in all districts of the state under the chairmanship of the district magistrates. This committee, after receiving the proposal for shooting, reviews the security of the film unit, permission for the shooting site, provides accommodation at the government guest houses/tourist bungalows and removes roadblocks, if any, to ensure hassle free shooting experience.

He also informed that under the able guidance and inspiration of the Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav, the Film Bandhu has so far received about 150 proposals for film shoots and subsidy. After the Film Bandhu was constituted, 25 films have been given subsidy and 15 films will be given subsidy very soon by the chief minister himself.

To encourage film production further in the state, more and more facilities are being provided by the state government and suggestions by film producers are also being implemented.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *