माननीय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी

On November 7, a new record of planting 10 lakh plants in a single day would be created: CM Akhilesh Yadav

माननीय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी
माननीय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने किया श्री गणेश

‘क्लीन यूपी, ग्रीन यूपी ‘ अभियान के तहत प्रदेश को हरा-भरा बनाने के मकसद से शनिवार को सूबे में दस स्थानों पर 10.15 लाख पौधे रोपे गए। वन व सिंचाई विभाग और ग्रेटर नोयडा अथॉरिटी के सम्मिलित प्रयासों से आयोजित इस विशेष पौधरोपण कार्यक्रम के जरिये सरकार ने विश्व रिकार्ड बनाने का दावा किया है।

आठ घंटे में 10.15 लाख पौधे रोपकर विश्व रिकार्ड|

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हमीरपुर में पीपल का पौधा रोपकर कार्यक्रम का आगाज किया। कार्यक्रम के दौरान वन व सिंचाई विभाग तथा ग्रेटर नोयडा अथॉरिटी द्वारा शनिवार को आठ घंटे की अवधि में प्रदेश में दस स्थानों पर 850 हेक्टेयर क्षेत्रफल में 10.15 पौधे रोपे गए। रोपने के लिए बांटे गए पौधों की गणना मौके पर ऑडिटरों ने मशीन के जरिये की। महिलाओं, शिक्षकों, छात्र-छात्राओं, सैनिकों, ग्रामीणों तथा अन्य लोगों ने शीशम, कंजी, पाकड़, नीम, अर्जुन, आंवला, चिलबिल, इमली, बरगद, पीपल सहित विभिन्न प्रजातियों के पौधे रोपे। इन पौधों की सुरक्षा के लिए तार की बाड़, सुरक्षा खाई आदि बनाये गए हैं। प्रत्येक पौधरोपण स्थल पर पर्याप्त मात्रा में बोरिंग कर या नहर के माध्यम से पौधों की सिंचाई की व्यवस्था की गई है।

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि पौधों को ग्रिड बनाकर रोपा गया है। प्रत्येक ग्रिड के पौधों की देखभाल के लिए नोडल अधिकारी नामित किये गए हैं। इन पौधों की जीवितता सुनिश्चित करने के लिए दो महीने के बाद विभागीय आन्तरिक ऑडिट टीम द्वारा इनकी जांच की जाएगी।

वर्ष 2007 में एक दिन में एक करोड़ पौधे लगाकर विश्व रिकार्ड बनाने वाला उत्तर प्रदेश अब दस लाख पौधे दस स्थानों पर लगाकर नया कीर्तिमान हासिल करेगा। अभी तक गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड (जीडब्ल्यूआर) में एक दिन में 8.50 लाख पौध रोपित किए जाने का कीर्तिमान दर्ज है। पौधरोपण सुबह से शुरू होकर शाम तक चलेगा। पीपल, नीम, जामुन, पाकड़, गूलर, शीशम, कांजी, आंवला, चिलबिल तथा इमली इत्यादि के पौधे लगाए जाएंगे।

इन सभी दस स्थानों पर अन्तराष्ट्रीय ऑडीटर मौजूद रहेंगे, जो पेड़ों की गिनती करेंगे। पौधरोपण हमीरपुर के अतिरिक्त सोनभद्र, ललितपुर, मीरजापुर, लखीमपुर, फर्रुखाबाद, चित्रकूट, गौतमबुद्धनगर, श्रावस्ती और लखीमपुर में दो स्थानों पर होगा। मीरजापुर में जलपुरुष राजेंद्र सिंह भी शामिल होंगे। पौधरोपण के स्थानों पर ग्रिड बनाए जाएंगे। एक प्रजाति के पौधे एक ही ग्रिड में लगाए जाएंगे। ग्रिड के बोर्ड में पौधे की संख्या अंकित की जाएगी। मुख्य बोर्ड में स्थान का क्षेत्रफल, ग्रिड एवं लगाए जाने वाले पौधों की संख्या तथा पौधरोपण की तारीख अंकित की जाएगी। संभावना जताई जा रही है कि 21 नवम्बर को सैफई (इटावा) में कीर्तिमान बनाए जाने का प्रमाण-पत्र दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी ने हमीरपुर में #UPGoesGreen कैम्पेन के अंतर्गत पौधारोपड़ किया |
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी ने हमीरपुर में #UPGoesGreen कैम्पेन के अंतर्गत पौधारोपड़ किया |

In presence of international auditors, on the same day plantation would be done at nine other parts of the state

Till now, a world record of plantation of 8.50 lakh saplings in a single day is logged in the Guinness Book of World Records

Under the leadership of Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav, a new record would be made by planting 10 lakh plants on a single day, on November 07, 2015. The Chief Minister will kickstart the record-setting plantation drive at an identified stretch of land at Maudaha in Hamirpur district.

On the same day, the plantation drive would also be set rolling at nine other places in the state, in presence, of international auditors. Giving this information, a state government spokesman today informed that other than Hamirpur, other places where the plantation drive would be undertaken include Sonebhadra, Lalitpur, Mirzapur, Lakhimpur, Farukkhabad, Chitrakoot, Gautambuddhnagar and Shrawasti. In Lakhimpur, two places have been identified for the plantation drive.

He further added that in Mirzapur, ‘Waterman’ Mr. Rajendra Singh will be taking part in the plantation drive. He also said that grids would be made for plantation and plants of only one variety would be planted in one grid. In every grid, the number of saplings planted would be counted and at a prominent main spot, the area of the place, the number of grids and the number of plants along with the date of plantation would be displayed.

Under this plantation drive, saplings of Peepal, Neem, Jamun, Pakad, Goolar, Sheesham, Kanji, Aanwla, Chilbil and Imli etc. will be planted. It may be pointed out here that till now, the Guinness Book of World Records (GWR) lists 8.50 lakh plantations in a single day as a world record. The plantation drive will begin on November 7, 2015 morning and conclude in the evening.

The GWR international organization is likely to give the certificate of the new record at a ceremony in Saifai on November 21, 2015 at Saifai (Etawah).

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *