AIR INDIA

Jewar Airport gets security clearance

नोएडा एयरपोर्ट के फेज-1 को सिक्योरिटी क्लीयरेंस, जल्द होगा नींव रखने की तारीख का ऐलान

नोएडा एयरपोर्ट (Noida Airport) को ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन (बकास) से मंजूरी मिल गई है. अब नोएडा एयरपोर्ट की नींव रखे जाने की सभी कागजी प्रक्रिया पूरी हो गई है. अब किसी भी दिन नींव रखने की तारीख का ऐलान किया जा सकता है. बुधवार को इस बाबत पत्र नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (नियाल) को मिल गया.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के मास्टर प्लान को केंद्र से अंतिम अनापत्ति भी मिल गई है। नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो ने अपने सुझावों के साथ अनापत्ति दे दी है। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कंपनी लिमिटेड (नियाल) को बुधवार को नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो का पत्र मिल गया। संशोधित मास्टर प्लान अगले पंद्रह दिनों में पास करने हैं। इसके साथ ही एयरपोर्ट का शिलान्यास जल्द होने की उम्मीद बढ़ गई है। नियाल ने गत दिसंबर में मास्टर प्लान को केंद्रीय मंत्रालय की अनापत्ति व सुझाव के लिए भेजा था। रक्षा मंत्रालय, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण, नागर विमानन महानिदेशालय फरवरी में ही अनापत्ति दे चुके हैं, लेकिन नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो की स्वीकृति नहीं मिलने के कारण मास्टर प्लान अटका हुआ था। बुधवार को अंतिम बाधा भी दूर हो गई।

केंद्रीय मंत्रालय एवं विभिन्न विभागों से मिले सुझावों पर अमल करते हुए संशोधित मास्टर प्लान तैयार हो जाएगा। पहले प्लान को यमुना प्राधिकरण की स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा। इसके बाद नियाल बोर्ड इसपर स्वीकृति देगा। एयरपोर्ट की अधिगृहीत 1,334 हेक्टेयर भूमि का भौतिक कब्जा लेने के लिए नियाल पहले ही पत्र भेज चुका है।

इधर एयरपोर्ट के शिलान्यास की तैयारी शुरू हो गई है। हालांकि शिलान्यास की तिथि अभी तक तय नहीं हुई है, लेकिन कार्यक्रम के आयोजन के लिए इवेंट मैनेजमेंट कंपनी की तलाश शुरू हो गई है। उन कंपनियों से प्रस्ताव मांगे गए हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री के कार्यक्रम, उद्घाटन समारोह आदि के आयोजन का अनुभव है। विकासकर्ता यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट कंपनी लिमिटेड ने भी निर्माणकार्य के लिए ई-टेंडर जारी कर दिए हैं। टर्मिनल बिल्डिग समेत अन्य निर्माण के लिए अनुभवी कंपनियों से आवेदन मांगे गए हैं। जून तक बोली डाली जाएगी और जुलाई में नाम सामने आएगा। एयरपोर्ट निर्माण से प्रभावित परिवारों के पुनर्वास का कार्य भी तेजी से पूरा किया जा रहा है। जेवर बांगर में करीब 1,300 भूखंडों का विकासकार्य पूरा हो चुका है। दो गांवों के ग्रामीणों को भूखंड आवंटित भी हो चुका है। बयान

नोएडा एयरपोर्ट के मास्टर प्लान पर नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो की टिप्पणी मिल गई है। विकासकर्ता को संशोधित मास्टर प्लान स्वीकृति के लिए जल्द देना होगा। – डॉ.अरुणवीर सिंह, सीईओ, यमुना प्राधिकरण व नियाल

पहले चरण में 1334 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण

ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्योरिटी (BCAS) ने हरी झंडी दिखा दी है. CMO ऑफिस में तैनात ACS एस.पी गोयल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. स्विस कंपनी ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल एजी, जेवर एयरपोर्ट को बना रही है. पहले चरण में 1334 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किया गया है.

The Bureau of Civil Aviation Security (BCAS) on Wednesday gave its clearance to the Noida International Airport to be developed in Jewar, said officials of the Uttar Pradesh government. The BCAS, which comes under the ministry of civil aviation, is the regulatory authority for civil aviation security in the country.

“A great news! The security clearance and vetting for Phase I of the Noida International Airport has been received from BCAS also, and has already been received from the other regulating authorities,” tweeted SP Goyal, additional chief secretary to UP chief minister.

The UP government has also approved a proposal for land acquisition for the second phase of the project, officials of Gautam Budh Nagar administration said.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *