शैलेन्द्र सिंह

International hockey player Shailendra Singh joined Samajwadi Party in presence of Akhilesh Yadav

अंतराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी शैलेन्द्र सिंह ने थामी ‘साइकिल’, अखिलेश ने कहा- सरकार बनी तो फिर शुरू होगा यश भारती सम्मान

अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी शैलेन्द्र सिंह बुधवार को साइकिल पर सवार हो गए। उन्होंने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली। उनके साथ जौनपुर भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष विकास दुबे और बहुजन समाज पार्टी की क्षेत्रीय भाईचारा समिति, वाराणसी के पूर्व जिलाध्यक्ष अजय सिंह ने भी पार्टी का दामन थाम लिया। इस दौरान अखिलेश ने कहा कि वर्ष 2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार बनते ही यशभारती सम्मान के साथ ही पचास हजार रुपये प्रतिमाह धनराशि फिर से चालू की जाएगी।

अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी शैलेद्र सिंह को दो बार गोल्ड मेडल, आस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज 2011 में बेवरी अवार्ड एवं दिल्ली सरकार द्वारा सिंघम अवार्ड दिया जा चुका है। चक दे इंडिया फिल्म में भी उन्होंने अभिनय किया है। वर्ष 2006 में वह भारतीय महिला हॉकी टीम के कोच रहे थे, जबकि वर्तमान में मास्टर्स गेम्स फाउंडेशन इंडिया के जनरल सेक्रेट्री हैं। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी में आने पर उनको सम्मानजनक काम करने का अवसर मिलेगा। उनके आने से पार्टी को भी ताकत मिलेगी।

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार में खिलाड़ियों, साहित्यकारों, लेखकों, अधिवक्ताओं, शिक्षकों व कलाकारों सहित विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले विशिष्ट व्यक्तियों को यशभारती से सम्मानित किया गया था। इसमें 11 लाख रुपये व पचास हजार रुपये सम्मान राशि प्रतिमाह देने की व्यवस्था की गई थी, लेकिन भाजपा ने सत्ता में आते ही प्रतिमाह मिलने वाली राशि पर रोक लगा दी। अखिलेश ने कहा कि वर्ष 2022 में समाजवादी की सरकार बनते ही यशभारती सम्मान के साथ ही पचास हजार रुपये प्रतिमाह धनराशि फिर से चालू की जाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार का प्रतिवर्ष दो करोड़ नौकरी देने का वादा कोरा ही रह गया।

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकारों की नीतियों के कारण युवा पीढ़ी नौकरी की तलाश में जगह-जगह भटक रही है। भाजपा सरकार का प्रतिवर्ष दो करोड़ नौकरी देने का वादा था, लेकिन छह वर्ष में 12 करोड़ नौकरी-रोजगार से बाहर हो गये हैं। भाजपा की आर्थिक नीतियां बेरोजगारों, किसानों, छोटे कारोबारियों के विरुद्ध है, लेकिन बड़े उद्योगपतियों के पक्ष में योजनाएं बनायी जाती है। भाजपा सरकार के अंधेर के विरुद्ध सभी को एकजुट होकर इस सरकार को हटाने का संकल्प लेना चाहिए।

समाजवादी पार्टी ज्वाइन करने के बाद शैलेन्द्र सिंह ने आशा जतायी कि दोबारा 2022 में समाजवादी पार्टी सत्ता में आयेगी और अखिलेश यादव यूपी के मुख्यमंत्री बनेंगे, जिससे इस राज्य के लोगों को भला हो सकेगा। भाजपा सरकार ने धोखा किया है। बेकारी, गरीबी, बीमारी खेती की चर्चा बंद कर दी गई है। भाजपा सरकार में समस्याओं के समाधान की बात तो दूर-दूर तक नहीं है। उन्होंने कहा कि 2022 में समाजवादी सरकार बनाने के लिए नौजवान और खिलाड़ी पूरी निष्ठा से काम करेंगे।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *