Energy

IIT Engineer will do research on the Country – Chandan Yadav

आइआइटी इंजीनियर बन देश की सीमा सुरक्षा पर करेंगे शोध – चंदन यादव

कन्नौज जिले के तहसील तिर्वा से हाईस्कूल में जिला टॉप छात्र ने अपनी प्रतिभा आइआइटी इंजीनियर बनने में दिखाई और लक्ष्य देश की सीमा सुरक्षा को मजबूत करने का बताया। छात्र ने पढ़ाई के लिए टीवी व मोबाइल से दूरी बनाकर रखी। पिता की मौत के बाद मां के संघर्ष ने नींव को मजबूत किया है।

मेधावी से बात: चंदन यादव

  • मोबाइल व टीवी से रहे दूर, मां की मेहनत से मिला मुकाम
  • पिता की मौत का छलका दर्द, गंभीर बीमारी से थे ग्रसित

कस्बे के बौद्ध नगर निवासी चंदन सिंह यादव सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में हाईस्कूल के छात्र थे। चंदन यादव ने 92.17 फीसद अंक हासिल कर जिला टॉप किया। चंदन ने बताया कि वर्ष 2012 में पिता रणजीत सिंह यादव की मौत गंभीर बीमारी के कारण हो गई थी। इसके बाद मां सुमन देवी ने संघर्ष कर पढ़ाई के लिए नींव को मजबूत कर दिया। प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने के बाद घर पर रोजाना दो घंटे की क्लास ली।

पढ़ाई के लिए कोई समय निर्धारित नहीं रहा और जब तक मन लगा, तब तक पढ़ते रहे। बहन गोल्डी यादव ने पढ़ाई में काफी मदद की। स्कूल व कोचिग शिक्षकों ने सूरज की तरह तपना सिखाया है। अब आइआइटी इंजीनियर बनकर देश की सेवा करेंगे। लक्ष्य है कि देश की सीमा पर शहीद हो रहे जवानों के लिए अत्याधुनिक हथियार, वाहन, निगरानी के लिए रोबोट, ड्रोन जैसे उपकरण पर शोध करेंगे।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *