कांग्रेस

Former District Congress President of Faridabad Baldev Raj Ojha dies

हरियाणा के फरीदाबाद जिले में कांग्रेस की धुरी रहे बीआर ओझा का निधन

औद्योगिक जिले में कांग्रेस की धुरी रहे, पार्टी के लगातार साढ़े तीन दशकों तक जिलाध्यक्ष रहे बलदेव राज ओझा का सोमवार को निधन हो गया। करीब 85 साल के बुजुर्ग नेता को बीआर ओझा के नाम से ज्यादा जाना जाता था। ओझा पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चल रहे थे और सक्रिय राजनीति से दूर थे, पर कांग्रेस सहित सत्तारूढ़ भाजपा व अन्य दलों के नेता भी उनका आशीर्वाद लेने उनके पास पहुंचते रहते थे। सोमवार सुबह उन्होंने अंतिम सांस एस्का‌र्ट्स फोर्टिस अस्पताल में ली। रविवार को तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल भर्ती कराया गया था।

बीआर ओझा ने स्व.प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, नरसिम्हा राव से लेकर मौजूदा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ पार्टी में सक्रिय रूप से काम किया। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी भजन लाल के बेहद नजदीकियों में शुमार बीआर ओझा ने अन्य मुख्यमंत्रियों चौधरी बंसीलाल, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, केंद्रीय मंत्री रहे बीरेंद्र सिंह, मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा के पिता चौधरी दलवीर सिंह के साथ भी पार्टी के जिला अध्यक्ष के रूप में काम किया। वर्ष 1993 में सूरजकुंड में आयोजित हुए कांग्रेस के अधिवेशन के इंचार्ज ओझा ही थे। उनके बारे में खास बात यह भी है कि हिदू होने के बावजूद लगातार 50 साल तक ओल्ड फरीदाबाद वाली मस्जिद कमेटी के प्रधान भी रहे। उन्हें पार्टी ने 20 सूत्री कार्यक्रम के उपाध्यक्ष व शूगर फेडरेशन के चेयरमैन की जिम्मेदारी भी दी थी।

स्व.ओझा का अंतिम संस्कार दोपहर को नहरपार खेड़ीपुल स्वर्गाश्रम में किया गया। मुखाग्नि उनके बड़े पुत्र राजन ओझा ने दी।

इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष व राज्य सभा की सदस्य कुमारी सैलजा, भाजपा के विधायकों में नरेंद्र गुप्ता, सीमा त्रिखा, मूलचंद शर्मा, कांग्रेस विधायक आफताब अहमद, पलवल के जिला उपायुक्त यशपाल यादव, योगिराज ओम प्रकाश आर्य, पूर्व मंत्री करण दलाल व एसी चौधरी, पूर्व विधायकों में शारदा राठौर, टेकचंद शर्मा, आनंद कौशिक, उद्यमी जेपी मल्होत्रा, शिक्षाविद् एचएस मलिक, डॉ.सतीश आहूजा, राजनेताओं में जे.पी.नागर, लखन सिगला, विवेक प्रताप, बसंत खट्टक, अश्विनी त्रिखा, योगेश ढींगड़ा, सतबीर डागर, ज्ञान चंद आहूजा, सुमित गौड़, अशोक अरोड़ा, मनोज नागर, योगेश गौड़, सीमा जैन, मुकेश शर्मा, राजेंद्र भामला, बलजीत कौशिक, अनीशपाल, गुरुदत्त, मुकेश डागर, पार्षदों में मनोज नासवा, सुभाष आहूजा, अनिल कुमार, कविद्र चौधरी, कवि दिनेश रघुवंशी, जितेंद्र ढुल, पवन खन्ना, अशोक रावल, गौरव ढींगड़ा, गौरव चौधरी, हरजीत सिंह सेवक, सरदार सुखदेव सिंह, कर्नल महेंद्र सिंह बीसला सहित शहर के विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने पहुंच कर अपनी श्रद्धांजलि दी।

फरीदाबाद के जिला कांग्रेस अध्यक्ष रहे बलदेव राज ओझा का निधन

दिल्ली से सटे हरियाणा के फरीदाबाद में लंबे समय तक कांग्रेस जिलाध्यक्ष रहे बलदेव राज ओझा का सोमवार सुबह निधन हो गया। वह जिले के दिग्गज नेता के रूप में जाने जाते थे। वहीं, उनके निधन पर कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने शोक जताते हुए अपने श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट किया है- ‘बलदेव राज ओझा जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है। ओझा जी ने 35 साल से ज़्यादा समय तक फरीदाबाद के जिला कांग्रेस अध्यक्ष के रुप में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। शोक संतप्त परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दे।’

कांग्रेस पार्टी के लगातार साढ़े तीन दशकों तक जिलाध्यक्ष रहे और औद्योगिक जिले में कांग्रेस के भीष्म पितामह कहे जाने वाले बीआर ओझा पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चल रहे थे और सक्रिय राजनीति से दूर थे। सोमवार सुबह उन्होंने अंतिम सांस एस्कार्ट्स फोर्टिस अस्पताल में ली। रविवार को तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल भर्ती कराया गया था।

बीआर ओझा ने स्व.प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, नरसिम्हा राव से लेकर मौजूदा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ पार्टी में सक्रिय रूप से काम किया। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी भजन लाल के बेहद नजदीकियों में शुमार बीआर ओझा की अन्य मुख्यमंत्री चौधरी बंसीलाल, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, केंद्रीय मंत्री रहे बीरेंद्र सिंह भी पूरी इज्जत करते थे। मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा के पिता चौधरी दलवीर सिंह के साथ भी ओझा पार्टी के जिला अध्यक्ष रहे थे। वर्ष 1993 में सूरजकुंड में आयोजित हुए कांग्रेस के अधिवेशन के इंचार्ज ओझा ही थे।

ओझा ने कभी भी जात बिरादरी की राजनीति नहीं की और सभी को साथ लेकर चले। उनके बारे में खास बात यह भी है कि हिंदू होने के बावजूद लगातार 50 साल तक ओल्ड फरीदाबाद वाली मस्जिद कमेटी के प्रधान भी रहे।

शहर के विकास के लिए भी उन्होंने 20 सूत्री कार्यक्रम के उपाध्यक्ष व शूगर फेडरेशन के चेयरमैन रहते हुए विभिन्न कार्य किए। स्व.ओझा का अंतिम संस्कार दोपहर बाद एक बजे नहरपार खेड़ीपुल स्वर्गाश्रम में किया जाएगा। उनके निधन पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला, प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने शोक जताया है।

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *