मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 21 मार्च, 2016 को लखनऊ में कुमारी अंजली मिश्रा को अहिल्याबाई होल्कर पुरस्कार प्रदान करते हुए।

Following directives from the Chief Minister Akhilesh Yadav, revenue receipts of the Excise department reviewed by the Chief Secretary

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 21 मार्च, 2016 को लखनऊ में कुमारी अंजली मिश्रा को अहिल्याबाई होल्कर पुरस्कार प्रदान करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 21 मार्च, 2016 को लखनऊ में कुमारी अंजली मिश्रा को अहिल्याबाई होल्कर पुरस्कार प्रदान करते हुए।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के निर्देशों के क्रम में मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आबकारी विभाग की राजस्व प्राप्तियों की समीक्षा की गई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के निर्देशों के क्रम में आज यहां मुख्य सचिव श्री आलोक रंजन की अध्यक्षता में आबकारी विभाग की राजस्व प्राप्तियों की समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान वर्ष 2015-16 के लिए निर्धारित राजस्व लक्ष्य के सापेक्ष राजस्व प्राप्तियों में कमी पाई गई। मुख्य सचिव ने निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष राजस्व प्राप्ति सुनिश्चित करने में शिथिलता बरतने वाले अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

यह जानकारी देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि वास्तविक लक्ष्य के सापेक्ष खराब प्रदर्शन करने वाले जनपद सीतापुर, आगरा, खीरी, मेरठ, कानपुर नगर, झांसी, जालौन, मैनपुरी, इलाहाबाद तथा सिद्धार्थ नगर के जिला आबकारी अधिकारियों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं, जबकि जनपद झांसी, आगरा एवं खीरी के जिला आबकारी अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है।

इसके अलावा, झांसी, इलाहाबाद, कानपुर एवं आगरा प्रभारों के उप आबकारी आयुक्तों के विरुद्ध भी अनुशासनात्मक कार्रवाई किए जाने का निर्णय लिया गया है, जबकि लखनऊ प्रभार के उप आबकारी आयुक्त को तत्काल प्रभाव से स्थानान्तरित कर दिया गया है। यही नहीं, जिन जनपदों में राजस्व लक्ष्य के सापेक्ष प्राप्ति खराब रही है, उन जनपदों के जिला आबकारी अधिकारियों के साथ-साथ आगरा जोन के संयुक्त आबकारी आयुक्त को विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि दिए जाने का निर्णय लिया गया है।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि स्थिति के अनुश्रवण के दृष्टिगत आबकारी विभाग के मुख्यालय इलाहाबाद में एक कन्ट्रोल रूम स्थापित किया जाएगा, जो दिन-प्रतिदिन राजस्व प्राप्ति में हुई प्रगति के सम्बन्ध में सूचनाएं संग्रहीत करेगा तथा संकलित सूचनाएं प्रतिदिन मुख्य सचिव एवं प्रमुख सचिव, आबकारी को उपलब्ध कराएगा।

Owing to poor performance with regards to set targets, district excise officers of Jhansi, Agra and Kheri suspended with immediate effect

Disciplinary action ordered for poor performance, against district excise officers of Sitapur, Agra, Kheri, Meerut, Kanpur city, Jhansi, Jalaun, Mainpuri, Allahabad and Siddharthnagar

For monitoring of the situation, a control room will be established at the Allahabad Headquarters

Following directives of the Chief Minister, Chief Secretary Mr. Alok Ranjan reviewed the revenue receipts of the excise department. During the review, it was found that revenue receipts for the year 2015-16 were less than the set targets.

The Chief Secretary ordered stringent action against such officers who have failed to meet the revenue targets. Giving this information, a state spokesman said that disciplinary action has been ordered for poor performance, against district excise officers of Sitapur, Agra, Kheri, Meerut, Kanpur Nagar, Jhansi, Jalaun, Mainpuri, Allahabad and Siddharthnagar.

Owing to poor performance with regards to set targets, district excise officers of Jhansi, Agra and Kheri have been suspended with immediate effect and the deputy excise commissioner of Lucknow range has been transferred with immediate effect.

Besides, in districts where revenue receipts have been poor against the targets set, special adverse entries are being given to district excise officers and also to joint excise commissioner of Agra zone.

The spokesman further informed that keeping in view the need of regular monitoring, a control room will be established at the Allahabad HQ, which will collect revenue receipts on a day-to-day basis and send the comprehensive report to the Principal Secretary, excise and the Chief Secretary every day.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *