आम बजट

Finance Minister Arun Jaitley arrives at the Parliament for Union budget 2018

आम बजट
आम बजट

बजट 2018: अखिलेश यादव ने किया ट्वीट- ये अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट है

वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा बजट पेश करने के बाद राजनीतिक दल इसकी खूबियां और खामियां गिनाने में लगे हैं। भाजपा के नेता जहां इसे सभी वर्गों के लिए हितकारी बता रहे हैं तो विपक्षी इस बजट से गरीबों, किसानों और युवाओं को ठगने की बात कह रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने तो ट्वीट किया है कि ये अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट है। बजट से गरीब-किसान-मजदूर को निराशा हाथ लगी है। वहीं बेरोजगार युवा भी हताश हुए हैं।

अखिलेश ने कहा है कि इस साल का बजट कारोबारियों, महिलाओं, नौकरीपेशा और आम लोगों के मुँह पर तमाचा है। उन्होंने कहा है कि आखिरी बजट में भी भाजपा ने दिखा दिया कि वो केवल अमीरों की हिमायती है। जनता इसका जवाब सरकार को जरूर देगी।

वहीं, सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर बजट से सभी वर्गों के सशक्तिकरण की बात कही। सीएम ने वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किए गए साल 2018 के बजट को ऐतिहासिक बजट बताते हुए सराहा है।

उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में वित्त मंत्री ने किसानों, महिलाओं, युवाओं और समाज के सभी वर्गों के सशक्तीकरण का ऐतिहासिक बजट पेश किया है। सीएम ने कहा है कि मुझे विश्वास है कि इस बजट से देश के चहुंमुखी विकास को और गति मिलेगी।

अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट है, बजट में दिखा दिया कि…- अखिलेश

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को बजट पेश किया। बजट को लेकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए सरकार को घेरने की पूरी कोशिश की।

जानें आखिर अखिलेश ने सरकार के इस बजट को लेकर क्या-क्या तंज कसे…

अखिलेश ने सरकार के इस बजट को गरीब, किसान और मजदूर के लिए निराशा बताया।

गरीब-किसान-मजदूर को निराशा; बेरोजगार युवाओं को हताशा; कारोबारियों, महिलाओं, नौकरीपेशा और आम लोगों के मुँह पर तमाचा. ये जनता की परेशानियों की अनदेखी करने वाली अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट है. आख़री बजट में भी भाजपा ने दिखा दिया कि वो केवल अमीरों की हिमायती है. अब जनता जवाब देगी.

सपा प्रमुख ने सरकार के बजट पर तंज कसते हुए कहा कि यह बेरोजगार युवाओं के लिए हताशा, कारोबारियों, महिलाओं, नौकरीपेशा और आम लोगों के मुँह पर तमाचा है। अखिलेश ने कहा कि सरकार का यह बजट विनाशकारी है।

अखिलेश ने बीजेपी सरकार को अहंकारी सरकार बताया। इनता ही नहीं अखिलेश ने कहा कि बीजेपी केवल अमीरों की हिमायती है।

Budget 2018: करदाताओं को नहीं मिली राहत, निवेशकों को झटका, किसानों को दिखाया सपना

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में आम बजट पेश किया। उन्होंने गांव-किसान, हेल्थ सेक्टर, रेलवे, टैक्स, रोजगार समेत कई अहम मुद्दों पर बड़े ऐलान किये। उन्होंने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और राज्यपाल के वेतन में बढोतरी का ऐलान भी किया। राष्ट्रपति का वेतन 5 लाख रुपये, उपराष्ट्रपति का वेतन 4 लाख और राज्यपाल का वेतन 3.5 लाख रुपये होगा।

12.44 PM: लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स 10 फीसदी देना होगा। शेयर खरीदने और बेचने पर लगेगा यह टैक्स। शिक्षा और स्वास्थ पर एक फीसदी सेस बढ़ा। सेस 3 फीसदी से बढ़कर 4 फीसदी हुआ। कस्टम ड्यूटी बढ़ेगी। मोबाइल और टीवी महंगे होंगे।

12.35 PM: इनकम टैक्स की दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है, जिससे मिडिल क्लास को कोई फायदा नहीं मिलेगा। आमदनी में से 40 हजार रुपये घटाकर लगेगा टैक्स। यानि जितनी आमदनी है उसमें 40 हजार घटाकर टैक्स लगेगा। 40 हजार रुपये तक स्टैंडर्ड डिडक्शन मिलेगा। नौकरी पेशा को कोई छूट नहीं मिलेगी। डिपॉजिट पर मिलने वाली छूट 10 हजार से बढ़ाकर 50 हजार हुई। सीनियर सिटीजन को राहत दी गई है।

12.28 PM: सरकार को 2017-18 में 5.95 लाख करोड़ का घाटा हुआ। अभी जीडीपी का 3.5 फीसदी सरकारी घाटा काले धन के खिलाफ मुहिम का असर दिखा है। टैक्स देने वाले 19.25 लाख बढ़े, डायरेक्ट टैक्स का कलेक्शन 12.6 फीसदी हुआ। इनकम टैक्स कलेक्शन 90 हजार करोड़ बढ़ा।

12.19 PM: राष्ट्रपति और राज्यपाल का वेतन बढ़ेगा। राष्ट्रपति का वेतन 5 लाख रुपये होगा और राज्यपाल का वेतन 3.5 लाख होगा। उपराष्ट्रपति का वेतन 4 लाख रुपये होगा।

12.10 PM: जेटली ने कहा कि बिटक्वाइन जैसी करेंसी नहीं चलेगी। आधार से जरूरतमंद लोगों को फायदा मिला है। आधार से लोगों को जरूरी सेवाओं का लाभ मिला। 2 सरकारी बीमा कंपनियां शेयर बाजार में आएंगी। सरकारी कंपनियों के शेयर बेचकर 80 हजार करोड़ जुटाएंगे। नई नीति से सोना लाने और ले जाने में आसानी होगी।

12.03 PM: रेलवे पर 1 लाख 48 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी सरकार, 600 स्टेशन आधुनिक बनेंगे। एयरपोर्ट की संख्या पांच गुना करने की कोशिश है। अभी 124 एयरपोर्ट से फ्लाइट्स उड़ रही है। 3600 नई रेल लाइन बिछाने का लक्ष्य है। मुंबई में लोकल ट्रेन के लिए खास योजना बनायी जायेगी। एस्कलेटर और कैमरे लगाए जाएंगे।

11.59 AM: धार्मिक पर्यटन शहरों के लिए हेरिटेज सिटी योजना बनेगी। स्मार्ट सिटी के लिए 99 शहरों को चुना गया। 100 स्मारकों को आदर्श बनाया जायेगा।

11.55 AM: सरकार ने 70 लाख नई नौकरियों का वादा किया। नये कर्मचारियों के EPF में 12 फीसदी का योगदान देगी सरकार

11.42 AM: 1200 करोड़ रुपये हेल्थ वेलनेस सेंटर के लिए दिए जाएंगे। जिसमें 10 करोड़ गरीब परिवार को 5 लाख रुपया सालाना दिया जायेगा। 50 करोड़ लोगों को हेल्थ बीमा मिलेगा। देश की 40 फीसदी आबादी को हेल्थ बीमा मिलेगा। 24 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। एक परिवार को एक साल में 5 लाख रुपये का इलाज कराने की सुविधा मिलेगी। टीबी मरीज को हर महीने 500 रुपये की मदद देंगे। 5 लाख स्वास्थ सेंटर खोले जाएंगे।

11.38 AM: जेटली ने कहा कि 1200 करोड़ रुपये हेल्थ सेक्टर के लिए रखे जाएंगे। इलाज न मिलने की वजह से किसी की जान नहीं जायेगी।

11.36 AM: जेटली ने कहा कि सरकार शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा काम करेगी। प्री नर्सरी से 12वीं तक हम सबकों शिक्षा देंगे और इसमें एक ही नीति अपनाई जायेगी। साथ ही डिजिटल पढ़ाई को भी बढ़ावा दिया जायेगा। सभी बच्चों को स्कूल पहुंचाना हमारा लक्ष्य होगा। आदिवासियों के लिए एकलव्य स्कूल होगा। वडोदरा में रेलवे यूनिवर्सिटी बनायी जायेगी।

11.30 AM: जेटली ने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण से निपटने के लिए स्कीम लाई गयी। पराली से होने वाले धुंए से निपटने के लिए स्कीम बनायी गयी।

11.22 AM: जेटली ने कहा कि इस साल 2 करोड़ शौचालय बनाए जाएंगे, पीएम आवास योजना के तहत घर दिये जाएंगे, 2022 तक हर नागरिक को घर देंगे। 51 लाख नए घर बनाए जा रहे हैं। 8 करोड़ महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन दिये। 4 करोड़ घरों में सौभाग्या योजना के तहत बिजली दी।

11.20 AM: सभी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलेगा। समर्थन मूल्य को 1.5 गुना बढ़ाने का ऐलान किया गया।

11.18 AM: जेटली ने कहा कि आलू, टमाटर और प्याज के लिए ऑपरेशन ग्रीन होगा जिसके लिए 500 करोड़ रुपये दिये जाएंगे। 42 मेगा फूड पार्क बनाए जाएंगे। 1290 करोड़ रुपयों से बांस मिशन चलाया जायेगा। बांस को वन क्षेत्र से अलग किया गया है।

11.15 AM: जेटली ने कहा कि गरीबों को मुफ्त डायलिसस की सुविधा मिल रही, पासपोर्ट 2-3 दिनों में मिल रहा। नया ग्रामीण बाजार ई-नैम बनाने का ऐलान किया।

11.13 AM: जेटली ने कहा कि किसानों को लागत का डेढ़ गुना मिलेगा। खरीफ का समर्थन मूल्य उत्पादन लागत से डेढ़ गुना होगा। उन्होंने कहा कि 30 करोड़ टन फलों का उत्पादन हुआ। उन्होंने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करेंगे।

11.09 AM: जेटली ने कहा कि सर्विस सेक्टर में 8 फीसदी की तरक्की मिली है। गरीबों को उज्जवला योजना के तहत लाभ दिया गया। हमारा जोर गांवों के विकास पर है। ईज ऑफ लिविंग पर जोर दिया जा रहा है। हम चाहते हैं कि लोगों के जीवन में सरकारी दखल कम हो।

11.07 AM: जेटली ने कहा कि बाजार में कैश का प्रचलन कम हो गया है। भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगी। हमारी अर्थव्यवस्था पटरी पर है।

11.05 AM: लोकसभा में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट पेश किया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के फैसले से देश तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना। GST को आसान बनाने की कोशिशें जारी हैं।

11.03 AM: बीजेपी के सांसद चिंतामणि के निधन पर लोकसभा के सांसदों ने श्रद्धांजलि दी।

11.02 AM: लोकसभा की कार्यवाही शुरू, थोड़ी देर में पेश होगा बजट

10.48 AM: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान बजट पेश होने से पहले संसद पहुंचे।

10.37 AM: कैबिनेट ने बजट को मंजूरी दे दी है। 24 मिनट बाद जेटली संसद में बजट पेश करेंगे।

10.22 AM: संसद में बजट से जुड़ी कॉपियों की सुरक्षा जांच की जा रही है। इस साल बजट की 2500 कॉपियां छपी हैं, सभी सांसदों को बजट की कॉपियां दी जाएंगी।

10.20 AM: पीएम मोदी संसद पहुंचे, कैबिनेट की बैठक शुरू हो चुकी है। जल्द ही वित्त मंत्री लोकसभा में बजट पेश करेंगे।

9.54 AM: आम बजट पेश करने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली संसद पहुंच गए हैं। बजट से जुड़े दस्तावेज भी संसद पहुंचाए गए।

9.48 AM: इस साल बजट की 2500 कॉपियां छपी हैं, सभी सांसदों को बजट की कॉपियां दी जाएंगी।

9.42 AM: संसद में यूनियन बजट से जुड़े दस्तावेज पहुंच गए हैं। कुछ ही देर में वित्त मंत्री अरुण जेटली लोकसभा में बजट पेश करेंगे।

8.50 AM: अरुण जेटली वित्त मंत्रालय पहुंचे, वह आज संसद में बजट पेश करेंगे।

8.45 AM: अरुण जेटली अपने घर से वित्त मंत्रालय के लिए निकले। आज पूरे देश की निगाहें उन पर होंगी।

8.30 AM: वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि यह एक अच्छा बजट साबित होगा। यह आम आदमी के लिए बहुत फायदेमंद होगा।

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *