मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से 9 दिसम्बर, 2015 को उनके सरकारी आवास पर मुस्लिम धर्मगुरुओं का प्रतिनिधिमण्डल मिला।

Delegation of Muslim clerics call on Chief Minister Akhilesh Yadav

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से 9 दिसम्बर, 2015 को उनके सरकारी आवास पर मुस्लिम धर्मगुरुओं का प्रतिनिधिमण्डल मिला।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से 9 दिसम्बर, 2015 को उनके सरकारी आवास पर मुस्लिम धर्मगुरुओं का प्रतिनिधिमण्डल मिला।

साम्प्रदायिक ताकतें विकास के मार्ग को रोकती हैं: मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

प्रतिनिधिमण्डल ने समाज में एकता, भाई-चारे, शान्ति और धर्मनिरपेक्षता की भावना को बढ़ाने के साथ-साथ सभी वर्गाें के विकास के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया

राज्य सरकार संविधान और कानून की रक्षा करने के लिए कोई कोर-कसर बाकी नहीं रखेगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से आज उनके सरकारी आवास पर टीले वाली मस्जिद के शाही इमाम मौलाना सैय्यद शाह फजलुर्रहमान वाइज़ी नदवी के नेतृत्व में मुस्लिम धर्म गुरुओं का एक प्रतिनिधिमण्डल मिला। प्रतिनिधिमण्डल ने मुख्यमंत्री से बातचीत के दौरान समाज में एकता, भाई-चारे, शान्ति और धर्मनिरपेक्षता की भावना को बढ़ाने के साथ-साथ सभी वर्गाें के विकास के लिए उनके प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले कुछ समय से साम्प्रदायिक ताकतों द्वारा समाज में असहिष्णुता का माहौल बनाने का प्रयास किया जा रहा है। साथ ही, समाजवादी सरकार को कमजोर व बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है, जिसे हर हाल में रोका जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने समाज में शान्ति और सद्भाव को हर कीमत पर बरकरार रखने का आश्वासन देते हुए कहा कि राज्य सरकार संविधान और कानून की रक्षा करने के लिए कोई कोर-कसर बाकी नहीं रखेगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की गंगा-जमुनी संस्कृति में सभी धर्माें व वर्गाें के लोग सदियों से आपसी भाई-चारे व सद्भाव के साथ रहते आए हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार तेजी से विकास कार्याें को अन्जाम देने में लगी हुई है, लेकिन निहित स्वार्थाें के चलते साम्प्रदायिक ताकतें इन विकास कार्याें से जनता का ध्यान हटाकर सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने में लगी हुई हैं। ये ताकतें विकास के मार्ग को रोकती हैं, जिनसे सतर्क रहना होगा।

इस अवसर पर बेसिक शिक्षा मंत्री श्री अहमद हसन, राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चैधरी मौजूद थे। प्रतिनिधिमण्डल में प्रिन्सिपल दारुलउलूम नदवतुल उलमा मौलाना सईदुर्रहमान आज़मी, मौलाना रफीकुल कासमी, मौलाना इकबाल कादरी, मौलाना सैय्यद सैफ़ अब्बास नक़वी, मौलाना मुश्ताक़ अहमद नदवी फिरंगी महली, जनाब सैय्यद अरशद आज़मी, जनाब फरहत मियां, जनाब एम0ए0 हसीब आदि धर्मगुरु शामिल थे।

Delegates express gratitude to Chief Minister for promoting brotherhood, unity, peace and secularism in the society and also for inclusive development in the state

State Government will not leave any stone unturned to protect the Constitution and Law

Communal forces prevent Development : Chief Minister

A delegation of Muslim clerics led by Shahi Imam Maulana Sayyed Shah Fazlur Rehman Waizi Nadwi of the Teele waali Masjid called on Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav at his official residence today.

During the meeting, the delegation expressed their gratitude to Chief Minister for promoting brotherhood, unity, peace and secularism in the society and also for inclusive development despite many forces trying to promote an atmosphere of intolerance in the country. With this, they pointed out, efforts were underway to bring bad name to the Samajwadi Government in the state which has to be stopped at all costs.

The Chief Minister said that State Government will not leave any stone unturned to protect the Constitution and Law. He said that people from all sections of the society have been following the path of the GangaJamuni culture and have been living in peace and the Samajwadi Government was trying to usher in development, communal forces was trying to disrupt and strain the harmony.

Also present during the meeting were Basic Education Minister Mr. Ahmad Hasan and Political Pension Minister Mr. Rajendra Chowdhary. The delegation included Ulma Maulana Said-ur-Rehman Azmi; Principal of Darul Uloom, Maulana Rafeequl Qasmi, Maulana Iqbal Qadri, Maulana Syyed Saif Abbas Naqvi, Maulana Mushtaq Ahmad Nadvi Firangi Mahali, Janab Syyed Arshad Azmi, Janab Farhat Miyan, Janab MA Haseeb and others.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *