19 नवम्बर, 2014 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष में व्यक्तिगत योगदान के तौर पर एक लाख रुपए का चेक प्रदान करते हुए।

Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav writes to Prime Minister for e-ticketing for Taj Mahal and other arrangements as soon as possible

19 नवम्बर, 2014 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष में व्यक्तिगत योगदान के तौर पर एक लाख रुपए का चेक प्रदान करते हुए।
19 नवम्बर, 2014 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष में व्यक्तिगत योगदान के तौर पर एक लाख रुपए का चेक प्रदान करते हुए।

State Government serious to provide international facilities to tourists coming to Agra

Project worth Rs. 167.92 crore to provide world class facilities around Taj Mahal is already underway

Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav has written a letter to Prime Minister Mr. Narendra Modi seeking expediting of necessary facilities and e-ticketing at Taj Mahal and effective and prompt actions for the same. In his letter, Mr. Yadav has said that due to lack of the eticketing facility, tickets are only disbursed from the ASI windows forcing domestic and foreign tourists to stand in serpentine queues for hours.

With regards to this, the State Government officers have held many meetings with officers of the Union Culture Ministry. The Minister of State (Independent Charge) for Tourism had also announced the e-ticketing facility in this financial year but not much headway has been made in this direction. Mr. Yadav also wrote in the letter that the way airlines have bar codes in e-ticketing/e-boarding passes, the same should be implemented for entry in the Taj Mahal, at the earliest.

Besides, the entry queues be increased, x-ray machines, DFMD and frisking machines be increase at the Taj Mahal, the letter says. This, he added, would give impetus to both domestic and foreign tourist inflow in the Taj City. The Chief Minister has also pointed out that world over India is known as the country of Taj Mahal and it is the most preferred tourist destination for tourists. Lakhs of tourists come to Taj Mahal every year and it is the endeavour of the state government to provide world class facilities to domestic and foreign tourists.

The Chief Minister in his letter has also apprised of the Prime Minister that to create world class infrastructure around the Taj Mahal, Rs. 167.92 crore worth ambitious project is already underway.

मुख्यमंत्री ने ताजमहल में प्रवेश हेतु ई-टिकटिंग तथा अन्य जरूरी व्यवस्थाएं यथाशीघ्र कराने हेतु प्रधानमंत्री को पत्र लिखा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने ताजमहल में प्रवेश हेतु ई-टिकटिंग तथा अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं यथाशीघ्र उपलब्ध कराने हेतु प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर इसके समाधान के लिए प्रभावी कदम उठाए जाने का अनुरोध किया है।

अपने पत्र में श्री यादव ने यह भी कहा कि ताजमहल प्रवेश हेतु ई-टिकटिंग की व्यवस्था न हो पाने व ए0एस0आई0 के टिकट विण्डो से ही टिकट क्रय करने की बाध्यता है जिससे देशी-विदेशी पर्यटकों को घण्टों लाइन में लगा रहना पड़ता है। इसके सम्बन्ध में राज्य सरकार ने पूर्व में संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार के अधिकारियांे से कई बैठके भी की। केन्द्रीय पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) द्वारा ई-टिकटिंग की व्यवस्था इसी वित्तीय वर्ष में करने की घोषणा भी की गई लेकिन अभी तक कोई सकारात्मक पहल नहीं हुई।

मुख्यमंत्री ने यह भी लिखा कि जिस प्रकार से एअरलाइन्स में बार-कोड सहित ई-टिकट/ई-बोर्डिंग पास आदि की व्यवस्था है, उसी प्रकार की व्यवस्था ताजमहल में प्रवेश हेतु भी शीघ्रातिशीघ्र लागू की जाए। इसके अलावा ताजमहल में प्रवेश हेतु कतारों की संख्या बढ़ाने तथा एक्स-रे, डी0एफ0एम0डी0 एवं फ्रिस्किंग आदि के लिए आधुनिक मशीनों की व्यवस्था भी करायी जाए। इससे देशी-विदेशी पर्यटकों को आधुनिक सुविधाएं मिल सकेंगी जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि विश्व में भारत को ‘ताजमहल का देश’ के नाम से भी जाना जाता है। ताजमहल अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों का लोकप्रिय गंतव्य है। यहां प्रतिवर्ष लाखों की संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं। राज्य सरकार का निरंतर यह प्रयास रहा है कि आगरा आने वाले देशी एवं विदेशी पर्यटकों के लिए अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की अवस्थापना सुविधाएं उपलब्ध करायी जाएं, जिससे आगरा में पर्यटन को बढ़ावा मिल सके। उन्होंने कहा कि ताजमहल के आस-पास के क्षेत्रों में विश्वस्तरीय सुविधाएं सृजित करने हेतु राज्य सरकार द्वारा 167.92 करोड़ रुपये की महत्वाकांक्षी योजना क्रियान्वित की जा रही है।

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *