Blog

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 13 नवम्बर, 2015 को लखनऊ में देवी अवार्ड से सम्मानित महिलाओं के साथ।
Bureau | November 15, 2015 | 1 Comment

Chief Minister Akhilesh Yadav’s wife Kannauj MP Dimple Yadav as Lady Luck for him

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 13 नवम्बर, 2015 को लखनऊ में देवी अवार्ड से सम्मानित महिलाओं के साथ।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 13 नवम्बर, 2015 को लखनऊ में देवी अवार्ड से सम्मानित महिलाओं के साथ।

डिंपल के जीवन में आने के बाद से बदली किस्मत : अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को भी ‘लेडी लक’ पर भरोसा है। उनका दावा है कि पत्नी के रूप में डिंपल यादव के जीवन में आने के बाद से ही उनकी किस्मत बदल गई।

लखनऊ में कल एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि पुरुष की तरक्की में महिला का हाथ होता है। यह कहावत मेरे ऊपर तो सौ प्रतिशत लागू है। उन्होंने कहा कि पत्नी के रूप में डिंपल के जिंदगी में आने के बाद उन्हें सियासी कामयाबी मिलना शुरू हुई। इस कार्यक्रम में महिलाओं को सम्मान दे रहे मुख्यमंत्री ने अतीत के झरोखे खोले। उन्होंने कहा कि शादी के बाद ही किस्मत खुली। सीएम अखिलेश ने बताया कि 1999 में डिंपल से उनकी शादी हुई और चार माह बाद वह राजनीति में आ गए। कन्नौज की जनता ने उन्हें सांसद चुना। उस समय वह सबसे कम उम्र के सांसद थे। उसके बाद सियासत में कई और अच्छे मुकाम आए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 13 नवम्बर, 2015 को लखनऊ में देवी अवार्ड वितरण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 13 नवम्बर, 2015 को लखनऊ में देवी अवार्ड वितरण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए।

मेरी सरकार ने झेली असहिष्णुता

असहिष्णुता को लेकर देश भर में चल रही बहस के बीच मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि उनकी सरकार ने खुद असहिष्णुता झेली है। उन्होंने कहा कि सांप्रदायिक होना आसान है, पर धर्म निरपेक्ष होना बहुत कठिन है। समाजवादी सरकार सबको साथ लेकर चलने में यकीन करती है। मुख्यमंत्री ने बिना नाम लिए केंद्र की भाजपा सरकार पर तीखा हमला किया कि बिहार की जनता ने सांप्रदायिक राजनीति करने वालों को जवाब दे दिया है, लेकिन इससे पहले ही उत्तर प्रदेश की जनता ने पंचायत चुनाव में ऐसी ताकतों को जवाब दिया था। साझा विरासत में यकीन करने वाली उत्तर प्रदेश और बिहार की जनता मुबारकबाद की पात्र है।

एफडीआइ के दौर में खानपान पर बवाल खराब बात

मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर वार करते हुए कहा कि कई क्षेत्रों में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआइ) को बढ़ावा देने के लिए नियम शिथिल किया जा रहा है। दुनिया का बाजार एक हो रहा है। ऐसे में कौन क्या खा रहा है, क्या पहन रहा है। इस पर रोक-टोक और बवाल करने से ज्यादा खराब कोई बात नहीं हो सकती।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी देवी पुरस्कार समारोह में
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी देवी पुरस्कार समारोह में

जिताऊ महिलाओं को टिकट देंगे

अखिलेश ने कहा कि महिला के स्वास्थ्य, सुरक्षा और उनकी समस्याओं पर पुरजोर ढंग से बात होनी चाहिए। महिलाओं की तरक्की के बगैर समाज और देश की तरक्की नहीं हो सकती है। समाजवादी पार्टी महिलाओं का सम्मान बढ़ाने में कभी पीछे नहीं रही। 45 लाख महिलाओं को समाजवादी पेंशन मिल रही है। महिला सम्मान कोष बनाया गया है। इस बार ज्यादा से जिताऊ महिलाओं को विधानसभा चुनाव का टिकट दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने जिलों में महिला डीएम व एसएसपी तैनात किया है। कई अच्छा काम भी कर रही हैं। पंचायत चुनाव में बहुत अच्छे युवक व महिलाएं भी चुनाव जीती हैं, ऐसे लोगों को आगे बढ़ाने का प्रयास होगा। उनकी बातों से संकेत मिला कि पार्टी जिला पंचायत, ब्लाक प्रमुख पद के चुनाव में युवा वर्ग पर दांव लगा सकती है।

उन्होंने कहा कि जिस परिवार एवं समाज में महिलाओं का सम्मान होता है वही परिवार एवं समाज प्रगति के पथ पर आगे बढ़ता है. राज्य सरकार अपने स्तर से महिलाओं के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं संचालित कर रही है. उन्होंने महिलाओं की बेहतरी के लिए काम करने वाली संस्थाओं का आवाहन किया कि वे राज्य सरकार के साथ मिलकर और अधिक प्रभावी परिणाम प्राप्त कर सकती हैं

मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार द्वारा संचालित समाजवादी पेंशन आदि योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इस योजना से प्रदेश की 45 लाख महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया गया है. इस मौके पर सांसद डिम्पल यादव ने कहा कि वास्तव में महिलाएं ही देश एवं समाज का मार्गदर्शन कर सकती हैं.

Bureau
Author: Bureau

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Bureau

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Related Posts

1 Comment

  1. krishna chandra yadav

    November 15, 2015

    Excellent effort for recognizing the women of India.

Leave a Comment

Your email address will not be published.