उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 17 अप्रैल, 2016 को अपने सरकारी आवास पर बिहार के राज्यपाल श्री राम नाथ कोविंद से मुलाकात करते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav writes letter to Rail Minister Suresh Prabhu

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 17 अप्रैल, 2016 को अपने सरकारी आवास पर बिहार के राज्यपाल श्री राम नाथ कोविंद से मुलाकात करते हुए।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 17 अप्रैल, 2016 को अपने सरकारी आवास पर बिहार के राज्यपाल श्री राम नाथ कोविंद से मुलाकात करते हुए।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आधुनिक रेल बस सेवा को पुनः संचालित करने हेतु रेल मंत्री को पत्र लिखा

मथुरा-वृन्दावन में पर्यटक सुविधाओं को विश्वस्तरीय बनाने एवं ट्रैफिक की समस्या से निजात के लिए आधुनिक रेल बस सेवा पुनः शुरू की जाए: मुख्यमंत्री
* पूर्व में संचालित रेल बस सेवा मथुरा-वृन्दावन के अधिकांश धार्मिक एवं पर्यटक स्थलों को जोड़ने का कार्य करती थी
* रेलवे की खाली भूमि व स्टेशन को मथुरा-वृन्दावन के धार्मिक एवं पौराणिक स्वरूप के अनुरूप विकसित किया जाए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने मथुरा-वृन्दावन में पर्यटक सुविधाओं को विश्वस्तरीय बनाने एवं ट्रैफिक की समस्या से निजात के लिए, रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु से आधुनिक रेल बस सेवा को प्राथमिकता पर पुनः शुरू कराने का अनुरोध किया है। उन्होंने मथुरा में रेलवे की खाली पड़ी भूमि व स्टेशन को मथुरा-वृन्दावन के धार्मिक एवं पौराणिक स्वरूप के अनुरूप विकसित करने का भी अनुरोध किया है।

इस सम्बन्ध में रेल मंत्री को लिखे अपने एक पत्र में मुख्यमंत्री ने अवगत कराया है कि मथुरा-वृन्दावन के बीच पिछले कई वर्षों से रेल बस सेवा प्रचलित थी, परन्तु वर्तमान में रेलवे ट्रैक सही न होने एवं रेल बस इंजन में खराबी के फलस्वरूप इस सेवा को बंद कर दिया गया है। इससे इस क्षेत्र की पर्यटन एवं नागरिक सुविधाएं प्रभावित हो रही हैं।
मुख्यमंत्री ने मथुरा-वृन्दावन के महत्व का उल्लेख करते हुए कहा है कि यह क्षेत्र तीर्थ स्थल होने के साथ-साथ पर्यटन की दृष्टि से अत्यन्त महत्वपूर्ण है। यहां पूरे विश्व से बड़ी संख्या में पर्यटकों का वर्ष भर आना-जाना बना रहता है।

मथुरा व वृन्दावन के अधिकांश पर्यटक स्थल एवं पौराणिक मंदिर जैसे श्रीकृष्ण जन्म स्थान, श्री द्वारिकाधीश मंदिर एवं श्री बांके बिहारी जी मंदिर आदि संकरे मार्गों पर स्थित हैं। पूर्व में संचालित रेल बस सेवा इनमें से अधिकांश स्थलों को जोड़ने का कार्य करती थी, जिसके फलस्वरूप इस क्षेत्र में ट्रैफिक की समस्या से निपटने में भी मदद मिलती थी।

श्री यादव ने अपने पत्र में यह भी उल्लेख किया है कि हेरिटेज सिटी की दृष्टि से इस क्षेत्र में रेल बस सेवा का संचालन बहुत जरूरी है। पर्यटक तथा इस क्षेत्र के निवासी भी लगातार रेल बस सेवा पुनः शुरू किए जाने की मांग कर रहे हैं।

इस क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों एवं जनता को बेहतर एवं सुगम यातायात उपलब्ध कराने हेतु मथुरा-वृन्दावन रेल-बस सेवा को प्राथमिकता के आधार पर पुनः संचालित करना बेहद जरूरी है। उन्होंने भरोसा जताया है कि क्षेत्र के महत्व को देखते हुए रेल मंत्रालय इस मामले में तत्काल निर्णय लेते हुए पूर्व में संचालित रेल-बस सेवा को और अधिक बेहतर ढंग से शुरू करेगा।

To make tourist facilities at Mathura-Vrindavan world-class and to overcome the problems of traffic, modern rail bus service should be restarted : Chief Minister

The rail bus service run in the past connected most religious and tourist spots in Mathura-Vrindavan

The railway station and vacant railway land be developed on lines of the religious and mythological facets of Mathura-Vrindavan

Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav has requested the Union Minister for Railways Mr. Suresh Prabhu to restart the modern rail bus service in Mathura-Vrindavan on a priority basis so that tourism facilities at these places may be made world class and the traffic problem could be sorted out.

He also requested that the railway station and vacant railway land be developed on lines of the religious and mythological background of MathuraVrindavan.

In his letter to the Railway Minister, Mr. Yadav has pointed out that the rail bus service was prevalent in the area for many years but at present has been stopped due to some glitches in the rail bus engine and poor track.

This, he added, was affecting the tourism and public services in the region. Underlining the significance of Mathura-Vrindavan, the Chief Minister has said that other than being a prominent religious place, it attracts a large number of tourists round-the-year.

Major draws here are the Shri Krishna birth place, Shri Dwarka Dheesh temple and the Shri Banke Bihari temple which are situated in narrow lanes. In the past, the rail bus service used to connect these places and also take care of the traffic problems.

Mr. Yadav has also mentioned in his letter that the service was very important in this Heritage city. The local residents have also been demanding this for a long time. The Chief Minister also expressed hope that owing to the above mentioned points, the railway ministry, would take a prompt decision with regards to restarting the rail-bus service in Mathura-Vrindavan on much better scale.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *