उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 5 जनवरी, 2016 को आगरा में प्रवासी भारतीयों के साथ।

Chief Minister Akhilesh Yadav to participate in ‘Walk of Hope’ in Kanpur on January 12

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 5 जनवरी, 2016 को आगरा के ताज महल परिसर में एम0ओ0यू0 के आदानप्रदान के अवसर पर।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 5 जनवरी, 2016 को आगरा के ताज महल परिसर में एम0ओ0यू0 के आदानप्रदान के अवसर पर।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव दिनांक 12 जनवरी, 2016 को ग्रीन पार्क स्टेडियम, कानपुर में मानव एकता मिशन द्वारा आयोेजित ‘वाॅक आॅफ होप’ पदयात्रा के स्वागत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे। इस पदयात्रा का उद्देश्य देश के सभी नागरिकों के बीच शान्ति, सद्भाव एवं आपसी भाईचारे को बढ़ावा देकर मानवता के सन्देश का प्रचार-प्रसार करना है।

आध्यात्मिक मार्गदर्शक, समाज सुधारक एवं शिक्षाविद् श्री एम0 ने इस यात्रा के लिए मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए सहयोग और समर्थन के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उत्तर प्रदेश में इस यात्रा के अनुभव को सुखद और सराहनीय बताया है।

मानव एकता मिशन पदयात्रा में शामिल कुछ सदस्यों ने विगत 19 नवम्बर, 2015 को मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से उनके सरकारी आवास पर मुलाकात कर इस यात्रा के उद्देश्यों के बारे में जानकारी दी थी। मुख्यमंत्री ने यात्रा के उद्देश्यों की सराहना करते हुए जनवरी, 2016 में इस यात्रा के कानपुर पहुंचने पर इस अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों मंे शामिल होने की सहमति प्रदान की थी।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में 67 दिनों की यह पदयात्रा में 913 किमी0 दूरी का सफर 13 जनपदों में तय करेगी। उत्तर प्रदेश में इस यात्रा का समापन 11 फरवरी, 2016 को होगा। इसके बाद यह पदयात्रा दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और कश्मीर तक जाएगी।

श्री एम0 के नेतृत्व में कन्याकुमारी से कश्मीर तक लगभग 7,500 किमी0 की ‘वाॅक आॅफ होप’ पदयात्रा 12 जनवरी, 2015 को शुरू की गई थी, जो 12 जनवरी, 2016 को एक वर्ष पूरा कर रही है। कानपुर जनपद में इस यात्रा का प्रवेश फतेहपुर से 7 जनवरी, 2016 को हुआ था। 10 जनवरी को कानपुर में इस यात्रा द्वारा कैण्डिल लाइट मार्च और गंगा आरती का कार्य सम्पन्न होगा तथा 12 जनवरी को मुख्यमंत्री इस यात्रा का स्वागत करेंगे।

उत्तर प्रदेश में 5 दिसम्बर, 2015 को इस यात्रा ने प्रवेश किया था। इसके द्वारा एक वर्ष में 12 जनवरी तक 5,250 किमी0 की दूरी तय की जाएगी। यह यात्रा तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात और मध्य प्रदेश से गुजर चुकी है। यह पद यात्रा साम्प्रदायिक सौहार्द और मानव एकता को मजबूत करेगी।

पदयात्रा का उद्देश्य देश के सभी नागरिकों के बीच शान्ति, सद्भाव एवं आपसी भाईचारे को बढ़ावा देकर मानवता के सन्देश का प्रचार-प्रसार करना है
श्री एम0 ने पदयात्रा के लिए मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए सहयोग और समर्थन के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उ0प्र0 में इस यात्रा के अनुभव को सुखद और सराहनीय बताया

The walk aimed at promoting peace, harmony and brotherhood among all people of the country and to carry forward the message of humanity

Mr. M expresses gratitude for the support and cooperation extended by the chief minister, calls the UP leg an encouraging and pleasant experience

Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav will be participating as the chief guest in the ‘Walk for Hope’ organized by the ‘Manav Ekta Mission’ from the Green Park Stadium at Kanpur on January 12, 2016. The aim of the walk is to promote promoting peace, harmony and brotherhood among all people of the country and to spread the message of humanity.

Spiritual guide, social reformer and educationist Mr. M has expressed his gratitude to the Chief Minister for his support and cooperation and has termed the UP leg of the walk as pleasant and encouraging. Some members of the ‘Manav Ekta Mission’ had call on the Chief Minister on November 19, 2015 at his official residence and had apprised him of the objective of this walk.

The Chief Minister had lauded them for the noble cause behind the walk and had agreed to the request by mission office bearers to be present at the events in Kanpur. It may be pointed out here that the walk, during 67 days would cover a distance of 913 km and traverse 13 districts. The UP leg would conclude on February 11, 2016 after which it would go to Delhi, Haryana, Punjab and Kashmir.

Led by Mr. M the 7500-km ‘Walk of Hope’ began on January 12, 2015 and would complete one year on January 12, 2016. It entered Kanpur from Fatehpur on January 7, 2016 and would enter into Kanpur on January 10, 2016 and would conclude with a candlelight march and Ganga Aarti. The chief minister would welcome the yatra on January 12 in Kanpur.

In UP, the yatra had entered on December 5, 2015 and in one year till January 12 it would complete 5,250 km distance. This yatra has already travelled through Tamil Nadu, Kerala, Karnataka, Maharashtra, Gujarat and Madhya Pradesh.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *