मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अक्टूबर, 2015 को बरेलीबागेश्वर स्टेट हाईवे37 के तहत बरेली से बहेड़ी तक नवनिर्मित 4लेन सड़क का लोकार्पण करते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav to dedicate to the people, 4-lane road from Bareilly to Bahedi

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अक्टूबर, 2015 को बरेलीबागेश्वर स्टेट हाईवे37 के तहत बरेली से बहेड़ी तक नवनिर्मित 4लेन सड़क का लोकार्पण करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अक्टूबर, 2015 को बरेलीबागेश्वर स्टेट हाईवे37 के तहत बरेली से बहेड़ी तक नवनिर्मित 4लेन सड़क का लोकार्पण करते हुए।

सपा सरकार ने प्रदेश में खुशहाली लाने का काम किया : मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

बरेली-बागेश्वर हाईवे को हरी झंडी

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बरेली-बागेश्वर फोरलेन स्टेट हाईवे आज जनता के सुपुर्द कर दिया। उन्होंने बरेली रेलवे स्टेडियम में उच्चीकृत किए गए इस हाईवे का लोकार्पण किया। पीपीपी मॉडल से फोरलेन किए जाने वाला यह पहला स्टेट हाईवे है। बरेली से उत्तराखंड को जोडऩे वाले 54 किलोमीटर लंबे इस हाईवे को 540 करोड़ रुपये लागत से फोरलेन किया गया है। लोकार्पण के मौके पर हुई जनसभा में मुख्यमंत्री ने एक बार फिर केंद्र पर तंज कसे। विकास के मुद्दे पर निशाना साधा तो सधी जुबान में विरोधी दलों का नाम लिए बगैर सपा की सरकार दोबारा बनवाने की अपील भी कर गए।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का दावा है कि उनकी सरकार ने प्रदेश में खुशहाली लाने का काम किया है। बरेली में आज रेलवे स्पोट्र्स स्टेडियम में 54 किमी के बरेली-बहेड़ी फोर लेन रोड का उद्ïघाटन करने के बाद सीएम ने जनसभा को भी संबोधित किया।

अखिलेश यादव ने कहा कि हमने उत्तर प्रदेश के लोगों को कम समय से ही अधिक सुविधाएं देकर सभी को खुशहाल बनाने का काम किया है। हमारी सरकार ने पांच साल के काम को तीन वर्ष में ही कर दिखाया है। अब दो साल में हम अगले तीन साल के विकास का खाका खींच रहे हैं। उन्होंने कहा कि सपा उत्तर प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले जा रही है। हमने प्रदेश में साइकिल को सस्ता करने के साथ ही किसान को दुर्घटना बीमा देने का काम किया है। प्रदेश में चिकित्सा तथा सिंचाई मुफ्त है। हर गांव को मुख्य मार्ग से जोडऩे का काम हो गया जबकि जिलों को भी फोर लेन रोड से जोड़ा जा रहा है। फोर लेन रोड अब एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगी। यहां के लोगों को समाजवादी पेंशन का लाभ मिल रहा है जबकि 45 लाख गरीब परिवार की महिलाओं को अलग से पेंशन दी जा रही है। यूपी में सबसे ज्यादा कन्या विद्या धन बांटा गया, साथ ही हम युवाओं को लैपटॉप बांट रहे थे।

एक्सप्रेस-वे बनाया जा रहा है, सभी जिलों को फोर लेन से जोड़ा जाएगा। अखिलेश यादव ने कहा कि सड़कों से प्रदेश का विकास होगा। उन्होंने कहा कि इससे पहले जब सड़क नहीं बनी थी। तब कठिनाई होती थी, फोर लेन से एक घंटे में लोग एक से दूसरी जगह पहुंचेंगे। अब लोग कम समय में ही अपना सफर तय कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि बरेली के इस फोर लेन से उत्तर प्रदेश के साथ ही साथ उत्तराखंड को भी लाभ मिलेगा। बरेली-अल्मोड़ा लेन से लोगों को फायदा होगा। उत्तर प्रदेश विकास के मामले में तमाम प्रदेशों को पीछे छोड़ चुका। अब विकास के मामले में उत्तर प्रदेश का किसी राज्य से कोई मुकाबला नहीं है।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बरेली के लोगों सड़क मिलने की बधाई। हमको जब भी यहां आने का मौका मिला, तब-तब योजनाएं दीं।

Chief Minister to dedicate to the people on October 18, the newly constructed 4-lane road from Bareilly to Bahedi, under the Bareilly-Bageshwar state highway-37

The four-lane road is 54-km long and built at a cost of Rs 540 crore

The newly constructed road will cut travel time from two-and-a-half hours to 45 to 60 minutes

The road has been built on PPP model by the UP State Highway Authority

Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav will on October 18 dedicate to the people, a newly constructed 4-lane road from Bareilly to Bahedi under the Bareilly-Bageshwar state highway-37. The dedication programme will be held in Bareilly district.

After this road is thrown open for traffic, the people of the nearby areas and going to Uttarakhand will save money and time. This road has been constructed by the Uttar Pradesh State Highway Authority. State Highway-37 goes from Bareilly to Haldwani, Almora and ahead to Bageshwar, of which the first 54-km stretch comes under UP. Some two and a half years back, this stretch of road was badly damaged and pot-holed.

From Bareilly to Bahedi (Uttarakhand) the distance was covered in more than two-and-a-half hours and the road was not motorable for heavy vehicles. With the road being very narrow in Bhojipura, traffic snarl-ups had become the order of the day. According top priority to the construction of this road, the state government has built the road at a cost of Rs 540.02 crore on PPP model within the set timelines.

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अक्टूबर, 2015 को बरेलीबागेश्वर स्टेट हाईवे37 के तहत बरेली से बहेड़ी तक नवनिर्मित 4लेन सड़क के लोकार्पण समारोह को सम्बोधित करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अक्टूबर, 2015 को बरेलीबागेश्वर स्टेट हाईवे37 के तहत बरेली से बहेड़ी तक नवनिर्मित 4लेन सड़क के लोकार्पण समारोह को सम्बोधित करते हुए।

The four-lane road with paved shoulders and widening and construction of a flyover at the densely populated area of Bhojipura, the distance between Bareilly and Bahedi has been reduced to 45-60 minutes.

Other than this, on this road 9 mini-bridges, 56 culverts, one toll plaza and one truck lay-bi. It may be pointed out here that people travelling to the Kumayun region – Nainital, Ranikhet, Bheemtal, Mukteshwar and other tourist spots, use this road.

It is also pertinent to point out here that the present state government has accorded top priority to laying of roads and construction of bridges in the state. Smooth transport infrastructure ensures rapid development and with this in mind work is also underway on the Agra-Lucknow Express-way. All district headquarters are also being linked with four lanes/two lanes with paved shoulder roads.

So far 39 districts have been linked and by March 2016, 49 district headquarters will be linked. From April 1, 2012 till now, 219 long bridges, 56 rail over bridges (ROBs) and 178 small bridges have been constructed. Of the 80 km cycle track identified in Lucknow, Agra, Etawah and Mathura, work on 25-km cycle track has been completed. From April 1, 2012 to now, work on widening and beautification of 10, 862 km roads and 45,000 km road has been renewed and special repairs undertaken.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *