मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 सितम्बर, 2015 को आगरा में ‘शेरोज़’ हैंग आउट में पीडि़त महिलाओं से मुलाकात के दौरान उनके द्वारा प्रस्तुत कैलेण्डर स्वीकार करते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav meets acid attack victims in Agra

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 सितम्बर, 2015 को आगरा में ‘शेरोज़’ हैंग आउट में पीडि़त महिलाओं से मुलाकात के दौरान उनके द्वारा प्रस्तुत कैलेण्डर स्वीकार करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 सितम्बर, 2015 को आगरा में ‘शेरोज़’ हैंग आउट में पीडि़त महिलाओं से मुलाकात के दौरान उनके द्वारा प्रस्तुत कैलेण्डर स्वीकार करते हुए।

शीरोज के हीरो बने अखिलेश

एसिड अटैक पीड़िताओं के जीवन में खुशियों के रंग बिखेर रहे शीरोज के ‘हीरो’ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बन गए हैं। रविवार को अचानक कैफे पहुंचे मुख्यमंत्री ने सर्वाइवर्स को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। शीरोज हैंगआउट कैफे ताजनगरी के साथ लखनऊ और नोएडा में खुलेंगे। इसके लिए सरकार निश्शुल्क जमीन उपलब्ध कराएगी।

होटल अमर विलास में रात्रि प्रवास के बाद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सुबह करीब 10:30 बजे फतेहाबाद रोड स्थित शीरोज हैंगआउट कैफे पहुंचे। मुख्यमंत्री को अचानक अपने बीच पाकर कैफे में काम करने वाली एसिड अटैक सर्वाइवर्स रितु, रूपा, नीतू और गीता आश्चर्यचकित रह गई। मुख्यमंत्री ने उनसे कहा कि जब ये जानकारी मिली कि एसिड अटैक सर्वाईवर्स कैफे संचालित कर रही हैं, तो वह स्वयं को आने से रोक नहीं सके। उनके काम करने के जज्बे की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने पूछा कि सरकार से आपको क्या मदद चाहिए? सर्वाइवर ने कहा कि, कैफे किराए की जगह में संचालित है और यहां स्पेस भी कम है। अगर सरकार जगह उपलब्ध करा दे तो, बढि़या कैफे बन सकता है। जिसके बाद मुख्यमंत्री ने डीएम पंकज कुमार को कैफे के लिए जगह देखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आगरा के अलावा लखनऊ और नोएडा में भी कैफे खोलने को वह जगह उपलब्ध कराएंगे। ताजनगरी में स्टेट ऑफ द आर्ट प्रोडक्ट के रूप में बनने जा रहे ताज ओरिएंटेशन सेंटर (शिल्पग्राम) में कैफे के लिए स्थान उपलब्ध कराने का आश्वासन भी दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह किसी भी तरह की सहायता के लिए उनकी ईमेल आइडी पर नि:संकोच मेल कर सकती हैं।

आगरा में घटिया साइकिल ट्रैक देखकर भड़के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपने ड्रीम प्रोजेक्ट साइकिल ट्रैक को लेकर काफी गंभीर हैं, इसके निर्माण पर उनको जरा भी कोताही पसंद नहीं है। आज आगरा से ललितपुर रवानगी से पहले सीएम ने ताजनगरी आगरा के माल रोड पर बने घटिया साइकिल ट्रैक पर कमिश्नर को जमकर फटकारा। यह तक कह किया कि आपकी सारी कारस्तानी मुझे पता है।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 सितम्बर, 2015 को आगरा में एसिड अटैक पीडि़तों द्वारा संचालित ‘शेरोज़’ हैंग आउट में पीडि़त महिलाओं से मुलाकात करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 सितम्बर, 2015 को आगरा में एसिड अटैक पीडि़तों द्वारा संचालित ‘शेरोज़’ हैंग आउट में पीडि़त महिलाओं से मुलाकात करते हुए।

‘मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर बहुत अच्छा लगा। हमें उम्मीद नहीं थी कि वह यहां आएंगे। यहां आकर उन्होंने हमसे काम के बारे में पूछा। उन्होंने हमें जमीन उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है।’: -गीता, एसिड अटैक सर्वाईवर्स

‘मुख्यमंत्री कैफे में आए तो बहुत अच्छा लगा। उनके आने से 10 मिनट पहले इसकी जानकारी हुई। हमारे काम करने के जज्बे की उन्होंने सराहना की। उन्होंने जो आश्वासन दिया है उससे वह हमारे हीरो बन गए हैं।’: -रितु, एसिड अटैक सर्वाईवर्स

मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां का साइकिल ट्रैक तो डेढ़ मीटर भी चौड़ा नहीं है। आप लोगों ने सब सत्यानाश कर दिया। इसके बाद सीएम ने डीएम पंकज कुमार को फतेहाबाद रोड पर साइकिल ट्रैक बनवाने का निर्देश दिया। सीएम ने डीएम पंकज कुमार को साइकिल ट्रैक बनाने के डीपीआर तैयार कर भेजने का निर्देश भी दिया। अब मुख्यमंत्री ने उसी रिपोर्ट पर अपनी मुहर लगा दी है।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 सितम्बर, 2015 को आगरा में ‘शेरोज़’ हैंग आउट में पीडि़त महिलाओं से मुलाकात के दौरान उनके द्वारा प्रस्तुत कैलेण्डर स्वीकार करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 सितम्बर, 2015 को आगरा में ‘शेरोज़’ हैंग आउट में पीडि़त महिलाओं से मुलाकात के दौरान उनके द्वारा प्रस्तुत कैलेण्डर स्वीकार करते हुए।

इसके बाद मुख्यमंत्री ने शीरोज हैंगआउट कैफ़े में एसिड अटैक पीडि़तों की तैयार की गई कोल्ड कॉफी का भी सेवन किया। मुख्यमंत्री ने थोड़ी कॉफी लाने को कहा था। मगर उनको पूरा गिलास भरकर कोल्ड कॉफी सर्व की गई। इसके एवज में कैबिनेट मंत्री राजेंद्र चौधरी ने टिप में इनको हजार रुपया टिप दिया।

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *