मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18.8.2015 को लखनऊ में पर्यटक तांगों के संचालन के शुभारम्भ अवसर पर तांगों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav launched Tourist Tanga for Lucknow, Agra and Kannauj

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18.8.2015 को लखनऊ में पर्यटक तांगों के संचालन के शुभारम्भ अवसर पर तांगों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18.8.2015 को लखनऊ में पर्यटक तांगों के संचालन के शुभारम्भ अवसर पर तांगों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए।

लखनऊ, आगरा और कन्नौज के लिए पर्यटक तांगा सेवा: मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज लखनऊ और आगरा के लिए वातानुकूलित टूरिस्ट बस सेवा का शुभारंभ किया। अपने सरकारी आवास पर उन्होंने एसी टूरिस्ट बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। साथ ही चार तांगों को रवाना कर लखनऊ, आगरा और कन्नौज के लिए पर्यटक तांगा योजना का शुभारंभ किया।
महानिदेशक पर्यटन अमृत अभिजात ने बताया कि एसी टूरिस्ट बस लखनऊ से पर्यटकों को नैमिषारण्य, अयोध्या और देवा शरीफ लेकर जाएगी और शाम को वापस आ जाएंगी। यह बस सोमवार और शुक्रवार को राजधानी के होटल गोमती से सुबह सात बजे नैमिषारण्य के लिए रवाना होगी और चंद्रिका देवी मंदिर होते हुए नैमिष में चक्रतीर्थ, हनुमानगढ़ी और ललिता देवी मंदिर के दर्शन कराकर शाम को लखनऊ वापस आएगी। इस बस से नैमिषारण्य आने-जाने का प्रति पर्यटक किराया 755 रुपये तय किया गया है। मंगलवार और शनिवार को यह बस लखनऊ से अयोध्या दर्शन के लिए रवाना होगी। यह बस अयोध्या के प्रमुख घाटों, धार्मिक स्थलों का भ्रमण और सरयू स्नान करा कर शाम को लखनऊ वापस आएगी। इस बस से अयोध्या घूमने के लिए प्रत्येक पर्यटक को 855 रुपये देने होंगे। गुरुवार और रविवार को यही बस लखनऊ से सुबह आठ बजे देवा शरीफ जाएगी। देवा शरीफ में दरगाह की जियारत के बाद यह बस शाम को वापस लखनऊ आ जाएगी। इस बस का किराया 250 रुपये है। इस बस में पर्यटन विभाग के गाइड भी होंगे।

लखनऊ की तरह आगरा में भी एसी बस का संचालन शुरू किया जा रहा है। यह बस पर्यटकों को सिकंदरा, ताजमहल, ताज नेचर वॉक, आगरा फोर्ट, ऐतमादुद्दौला का मकबरा आदि स्थानों पर घुमाएगी। यह बस शुक्रवार को सुबह आठ बजे और रोजाना अपराह्न एक बजे आगरा कैंट से चलेगी और वहीं पर वापस आएगी।

होटलों, बसों की ऑनलाइन बुकिंग

मुख्यमंत्री ने पर्यटन विभाग के मोबाइल एप का भी शुभारंभ किया। जीपीएस आधारित इस टूरिस्ट फ्रेंडली एप में सभी पर्यटन स्थलों के फोटोग्राफ, टूरिस्ट हेल्प डेस्क और उत्तर प्रदेश पर्यटन के सभी वीडियो लिंक होंगे। इसके जरिये यूपीएसआरटीसी की बसों की ऑनलाइन बुकिंग की सुविधा होगी। राज्य पर्यटन विकास निगम के होटलों की भी ऑनलाइन बुकिंग हो सकेगी। ऑनलाइन पैकेज टूर और टैक्सी की बुकिंग भी इससे हो सकेगी। इस एप पर पुलिस, फायरब्रिगेड और एंबुलेंस जैसी इमरजेंसी सेवाओं की भी सुविधा होगी। यह एप फेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब से भी जुड़ा होगा।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अगस्त, 2015 को लखनऊ में ‘लखनऊ आॅन साइकिल’ योजना का हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अगस्त, 2015 को लखनऊ में ‘लखनऊ आॅन साइकिल’ योजना का हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ करते हुए।

साइकिल से कीजिए लखनऊ की सैर

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर साइकिल सवारों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते हुए ‘लखनऊ ऑन साइकिल’ योजना का भी शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार ने लखनऊ में साइकिल ट्रैक बनवाकर साइकिल से सवारी करने वालों का सम्मान बढ़ाया है। अब साइकिल के जरिये लखनऊ की सैर का लुत्फ लिया जा सकेगा। लखनऊ देश का पहला साइकिल फ्रेंडली शहर होगा। उन्होंने ‘लखनऊ ऑन साइकिल’ योजना को तैयार करने वाले अंतरराष्ट्रीय स्तर के ख्यातिप्राप्त कंसल्टेंट जैक लिनेर्डस को भी सम्मानित किया। महानिदेशक पर्यटन अमृत अभिजात ने बताया कि लखनऊ की सैर के लिए गर्मियों में गोमती होटल में साइकिलें सुबह सात बजे और सर्दी में प्रात: 8 बजे किराये पर मिलेंगी। फिलहाल इसके दो रूट तय किये गए हैं। पहले रूट शाहनजफ इमामबाड़ा, अंबेडकर पार्क, लामार्टीनियर कालेज, दिलकुशा, विलायती बाग, कोठी बिबियापुर, पिपराघाट और चिडिय़ाघर तक होगा। दूसरे रूट में कैसरबाग, रेजीडेंसी, चौक, यूनानी अस्पताल, गोल दरवाजा, क्लाक टावर, छोटा इमामबाड़ा, कुडिय़ा घाट, रूमी दरवाजा, बड़ा इमाम बाड़ा और छतर मंजिल को शामिल किया गया है। फिलहाल इस योजना के तहत 10 आधुनिक साइकिलें खरीद ली गई हैं। भारतीय पर्यटकों के लिए साइकिल का किराया 500 रुपये, विदेशी पर्यटकों के लिए 750 रुपये और छात्रों के लिए 250 रुपये प्रतिदिन रखा गया है।

उद्योग के तौर पर पर्यटन विकास : अखिलेश

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार के प्रयासों के चलते बड़ी संख्या में पर्यटक उत्तर प्रदेश की ओर आकर्षित हो रहे हैं। पर्यटन में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका सड़कों की होती है इसीलिए रोड नेटवर्क को प्रभावी बनाने के लिए प्रयास हो रहा है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से पर्यटन को बड़े पैमाने पर बढ़ावा मिलेगा और बड़ी संख्या में पर्यटक हेरिटेज आर्क में आगरा से लखनऊ होते हुए वाराणसी तक जाएंगे। मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश पर्यटन प्रोत्साहन परिषद की द्वितीय बैठक की अध्यक्षता में कहा कि पर्यटन के जरिए लोगों को प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार दिया जा सकता है, साथ ही उत्तर प्रदेश को एक संपूर्ण ब्रांड के रूप में भी प्रस्तुत किया जा सकता है। सरकार ने पर्यटन क्षेत्र को उद्योग के रूप में विकसित करने का निर्णय किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए किए जा रहे प्रयासों के कारण उत्तर प्रदेश के प्रति पर्यटकों का नजरिया बदला है। अब घरेलू पर्यटन के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश तीसरे स्थान पर है। यदि ताजमहल, बड़ा व छोटा इमामबाड़ा, फतेहपुर सीकरी, वाराणसी व मथुरा के घाट तथा अन्य पर्यटन स्थलों, अभयारण्यों, पक्षी विहारों के समुचित विकास के साथ-साथ पर्यटकों को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं तो बड़ी संख्या में लोग इन जगहों पर पहुंचेंगे।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अगस्त, 2015 को लखनऊ में पर्यटकों हेतु ए0सी0 बस संचालन योजना का हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 18 अगस्त, 2015 को लखनऊ में पर्यटकों हेतु ए0सी0 बस संचालन योजना का हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ करते हुए।

आगरा में मुगल म्यूजियम

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार मौजूदा पर्यटन स्थलों के विकास के साथ ही नए पर्यटन स्थलों को भी चिन्हित कर रही है। आगरा में मुगल म्यूजियम की स्थापना की जा रही है। इनर सर्किल रोड भी बनाया जा रही है। लखनऊ में मेट्रो रेल, अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, जनेश्वर मिश्र पार्क, हुसैनाबाद हेरिटेज जोन तथा गोमती रिवर फ्रंट का विकास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या में दीपावली के आयोजन द्वारा पर्यटकों को आकर्षित करने, ‘फाइंड द रूट्स’ के माध्यम से सैकड़ों वर्ष पूर्व विदेश गए भारतीयों द्वारा अपने पैतृक स्थानों का पता लगाकर वहां की यात्रा करने जैसे सुझावों पर विचार कर इन्हें अमल में लाया जाएगा।

बैठक में एक बिजनेस चैनल द्वारा ट्रैवेल अवाडर््स के तहत ‘बेस्ट मैनेज्ड हिस्टोरिकल मॉन्यूमेंट’ की श्रेणी में ताजमहल के लिए मुख्यमंत्री को अवार्ड देकर सम्मानित किया गया। हेरिटेज आर्क कंसेप्ट को बेस्ट कंसेप्ट मानते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री को अवार्ड देकर सम्मानित किया। हेरिटेज आर्क का प्रतीक चिन्ह भी भेंट किया गया

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *