मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ के लोकार्पण अवसर पर ‘समाजवादी हस्तशिल्पी पेंशन योजना’ की एक लाभार्थी को पासबुक प्रदान करते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav inaugurated ‘Avadh Shilp Gram’ in Lucknow

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ के लोकार्पण अवसर पर ‘समाजवादी हस्तशिल्पी पेंशन योजना’ की एक लाभार्थी को पासबुक प्रदान करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ के लोकार्पण अवसर पर ‘समाजवादी हस्तशिल्पी पेंशन योजना’ की एक लाभार्थी को पासबुक प्रदान करते हुए।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने ‘अवध शिल्प ग्राम’ का लोकार्पण किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा है कि समाजवादी सरकार बुनकरों, हस्तशिल्पियों तथा उद्यमियों को आगे बढ़ने के लिए हर सम्भव सहायता पहुंचाने के लिए तत्पर है। वर्तमान सरकार के कार्यकाल में राज्य के सकल घरेलू उत्पाद तथा निर्यात में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। जी0डी0पी0 व एक्सपोर्ट की बढ़ोत्तरी में समाजवादी सरकार की नीतियों, कार्यक्रमों, उपलब्ध कराई गई सहूलियतों के साथ-साथ किसानों, बुनकरों, हस्तशिल्पियों तथा उद्यमियों की कड़ी मेहनत भी शामिल है। उन्होंने कहा कि राज्य के तीव्र विकास के लिए इन लोगों द्वारा जो भी सुझाव दिए जाएंगे, समाजवादी सरकार उन पर काम करेगी।

मुख्यमंत्री आज यहां अवध विहार में ‘अवध शिल्प ग्राम’ का लोकार्पण व प्रदेश के विशिष्ट शिल्पकारों एवं बुनकरों के निर्मित उत्पादों की प्रदर्शनी एवं उत्पादों के लाइव डेमो का शुभारम्भ करने के पश्चात् आयोजित कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने ‘समाजवादी युवा स्वरोज़गार योजना’ एवं ‘समाजवादी हस्तशिल्पी पेंशन योजना’, एम0एस0एम0ई0 पोर्टल का शुभारम्भ किया। साथ ही, उन्होंने जनेश्वर मिश्र निर्यात पुरस्कार, राम मनोहर लोहिया उद्यमी प्रादेशिक पुरस्कार तथा हस्तशिल्प पुरस्कार तथा समाजवादी हस्तशिल्पी पेंशन योजना के लाभार्थियों को पासबुक का वितरण व यू0पी0 इंस्टीट्यूट आॅफ डिजाइन का शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ में शिल्पकारों एवं बुनकरों के उत्पादों की प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ में शिल्पकारों एवं बुनकरों के उत्पादों की प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने प्रदेश के हस्तशिल्प पर आधारित काॅफी टेबल बुक तथा ‘लघु उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन में यू0पी0 के बढ़ते कदम’ स्मारिका का विमोचन भी किया। श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार सभी जनपदों में ऐसे स्थलों का निर्माण कराना चाहती है, जहां पर किसान, स्थानीय उत्पादक, दस्तकार व उद्यमी अपने उत्पादों को प्रदर्शित कर उनकी बिक्री कर सकें।

श्री यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश एक बड़ा राज्य है। यहां के हर जनपद की अपना अलग हस्तशिल्प और अर्थव्यवस्था है। उदाहरण के तौर पर वाराणसी साड़ियों के लिए, भदोही व मिर्जापुर कालीन, कन्नौज इत्र, लखनऊ चिकन, आगरा संगमरमर की नक्काशी, फिरोजाबाद कांच की चूड़ियों, सहारनपुर नक्काशीदार लकड़ी के सामान के लिए प्रसिद्ध है। इनको बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार लगातार काम कर रही है। भदोही में कारपेट बाजार का निर्माण किया जा रहा है। ग्रेटर नोएडा में एक्स्पो मार्ट की स्थापना कराई गई है। इसके अलावा, बड़ी संख्या में किसान बाजार बनाए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ में शिल्पकारों एवं बुनकरों के उत्पादों की प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ में शिल्पकारों एवं बुनकरों के उत्पादों की प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार प्रदेश को खुशहाली और तरक्की के रास्ते पर आगे ले जाने का काम कर रही है। कहा जाता है कि अमेरिका ने सड़कों का निर्माण किया और सड़कों ने अमेरिका को बनाया। समाजवादी भी इसी रास्ते पर चल रहे हैं। 50 जनपद मुख्यालयों को 4-लेन से जोड़ा गया है। देश के सबसे बड़े आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का निर्माण काफी कम समय में किया जा रहा है। यह सड़क देश व प्रदेश की राजधानियों, शहरों के साथ-साथ गांवों को भी जोड़ेगी। इसके साथ ही, समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के माध्यम से आजमगढ़ और बलिया तक इस एक्सप्रेस-वे को पहुंचाया जा रहा है। एक्सप्रेस-वे के किनारे बनने वाली मण्डियों से किसानों की बेहतरी के रास्ते भी खुलेंगे। इसके लिए बजट में प्राविधान भी किया गया है। यू0पी0 इकलौता राज्य है, जहां सबसे ज्यादा जनपदों में मेट्रो रेल परियोजनाओं का काम चल रहा है। इसमें से लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना रिकाॅर्ड समय में क्रियान्वित की जा रही है।

श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार प्रदेश के विकास के लिए लगातार तेजी से व संतुलन बनाकर काम कर रही है। समाजवादी सरकार ने प्रदेश में दूध के उत्पादन को बड़े पैमाने पर बढ़ाया है। समाजवादी पेंशन योजना के माध्यम से प्रदेश के 55 लाख गरीब परिवारों को प्रतिमाह आर्थिक सहायता सीधे उनके बैंक खाते में उपलब्ध कराई जा रही है। समाजवादी सरकार ने लगभग 18 लाख लैपटाॅप का निःशुल्क वितरण करके प्रदेश के छात्र-छात्राओं को आधुनिक तकनीक से परिचित कराने का महत्वपूर्ण काम किया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में यू0पी0 इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन का शिलान्यास करते हुए।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में यू0पी0 इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन का शिलान्यास करते हुए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारों के काम का आकलन करके उनकी तुलना करने पर समाजवादी सरकार को सबसे आगे पाएंगे। समाजवादी सरकार प्रदेश के गांव-गांव तक बिजली पहुंचाने के अपने संकल्प को हर स्थिति में पूरा करेगी। इसके लिए प्रदेश में विद्युतीकरण का काम तेजी के साथ हो रहा है। साथ ही, बिजली के कनेक्शन देने का भी काम किया जा रहा है। बिजली के उत्पादन को बढ़ाकर लगभग दोगुना किया गया है। समाजवादी सरकार आगामी अक्टूबर माह से विद्युत आपूर्ति में बड़ा बदलाव लाकर शहरों में 24 घण्टे और गांव में 16 घण्टे बिजली पहुंचाने के लिए कृतसंकल्प है।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए लोक निर्माण मंत्री श्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने पिछले 4 साल के कार्यकाल में सभी वर्गों के लिए बहुत काम किया है। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के गरीब, दलित, उपेक्षित, वंचित, पिछड़े वर्गों के साथ-साथ बुनकरों, शिल्पकारों, किसानों के लिए किए जा रहे काम के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। बेसिक शिक्षा मंत्री श्री अहमद हसन ने कहा कि समाजवादी सरकार बुनकरों को रियायती दरों पर बिजली आपूर्ति करने का बहुत सराहनीय कार्य कर रही है। समाजवादी सरकार द्वारा बुनकर बाहुल्य क्षेत्रों में निर्बाध बिजली पहुंचाने के लिए स्वतंत्र फीडर बनाने का बड़ा काम किया गया है।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव प्रदेश के हस्तशिल्प पर आधारित कॉफी टेबल बुक तथा ‘लघु उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन में यू0पी0 के बढ़ते कदम’ स्मारिका का विमोचन करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव प्रदेश के हस्तशिल्प पर आधारित कॉफी टेबल बुक तथा ‘लघु उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन में यू0पी0 के बढ़ते कदम’ स्मारिका का विमोचन करते हुए।

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री नितिन अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों से प्रदेश की विकास दर डबल डिजिट में पहुंच गई है। समाजवादी सरकार के कार्यकाल में राज्य का माहौल पूरी तरह बदल गया है, जिससे अन्य प्रदेशों के उद्यमी भी यहां आकर उद्योग लगाना चाहते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से छोटे उद्यमियों के लिए आॅनलाइन सिंगल विण्डो सिस्टम लागू करने, हस्तशिल्पियों को विदेश में जाकर अपने उत्पाद के प्रदर्शन और विक्रय के लिए एक के बजाय दो मौके दिए जाने तथा शिल्पियों की पेंशन को 1 हजार रुपए से बढ़ाकर 2 हजार रुपए करने की मांग की।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य सचिव श्री दीपक सिंघल ने कहा कि प्रदेश के हस्तशिल्प की विदेशों में बड़ी मांग और पहचान है। प्रदेश से 150 देशों को हस्तशिल्प का निर्यात किया जाता है। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा हस्तशिल्पियों एवं छोटे उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए उठाए गए कदमों से प्रदेश के विकास को गति मिली है। अपने सम्बोधन में प्रमुख सचिव सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन श्री रजनीश दुबे ने कहा कि देश के कुल हस्तशिल्प निर्यात का लगभग 45 प्रतिशत उत्तर प्रदेश से होता है। यहां के लघु उद्योग में करीब 1 करोड़ लोगों को रोजगार मिला हुआ है। प्रदेश सरकार की नीतियों के कारण राज्य का निर्यात बढ़कर 81 हजार करोड़ रुपए का हो गया है, जो कि उत्तर भारत में पहले स्थान पर है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ के लोकार्पण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ के लोकार्पण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए।

कार्यक्रम को राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष श्री नवीन चन्द्र बाजपेई, मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार श्री आलोक रंजन, प्रमुख सचिव आवास श्री सदाकान्त तथा इण्डिया एक्स्पो सेण्टर एण्ड मार्ट के अध्यक्ष श्री राकेश कुमार ने भी सम्बोधित किया।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम का दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारम्भ किया। इस मौके पर लाॅस एंजिल्स से आए एक ग्रुप ने वन्दे मातरम प्रस्तुत किया। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री नितिन अग्रवाल एवं एम0एस0एम0ई0 के सलाहकार श्री मुकेश अग्रवाल ने मुख्यमंत्री व श्रीमती डिम्पल यादव को स्मृति चिन्ह् भेंट किया। कार्यक्रम के अन्त में, आयुक्त एवं निदेशक उद्योग श्री अमित कुमार घोष ने अतिथियों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ का बटन दबाकर लोकार्पण करते हुए।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 20 अगस्त, 2016 को लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ का बटन दबाकर लोकार्पण करते हुए।

इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष श्री माता प्रसाद पाण्डेय, राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चौधरी, वस्त्र एवं रेशम उद्योग मंत्री श्री महबूब अली, सांसद श्रीमती डिम्पल यादव, यू0पी0आई0डी0 की अध्यक्ष श्रीमती जोहरा चटर्जी, अन्य जनप्रतिनिधिगण, प्रमुख सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

ज्ञातव्य है कि अवध शिल्प ग्राम मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की सोच और विजन का परिणाम है। शिल्पग्राम एक ऐसा अत्याधुनिक क्षेत्र होगा, जहां शिल्पकार अपने हस्तनिर्मित व्यवसाय से एक ही स्थल पर सीधे जुड़ेंगे। दिल्ली हाट की तर्ज पर बनाया गया अवध शिल्प ग्राम लगभग 20 एकड़ क्षेत्र में विस्तारित है, जो कि दिल्ली हाट के मुकाबले काफी बड़ा है। अवध शिल्पग्राम का कलेवर विश्वस्तरीय है। इसमें शिल्पकारों के लिए लगभग 200 दुकानें एवं प्लेटफाॅर्म तथा 50 वातानुकूलित दुकानें, विभिन्न प्रदेशों के लिए स्टाॅल, इसके साथ ही आॅडिटोरियम, एम्पीथियेटर, फूडकोर्ट, प्रदर्शनी हाॅल, कैफिटेरिया एवं अन्य मनोरंजन की सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। इसके साथ ही होटल, कारीगरों के लिए डारमेटरी एवं रूम का निर्माण भी किया गया है। यहां पार्किंग की समुचित व्यवस्था के साथ-साथ सोलर लाइट का अधिकतम उपयोग किया जाएगा। इस क्षेत्र को हरा-भरा बनाने के साथ ही, यहां पर रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था की गई है।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव अवध विहार, लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ के लोकार्पण अवसर पर हस्तशिल्पियों को पुरस्कार प्रदान करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव अवध विहार, लखनऊ में ‘अवध शिल्प ग्राम’ के लोकार्पण अवसर पर हस्तशिल्पियों को पुरस्कार प्रदान करते हुए।

इसी प्रकार एम0एस0एम0ई0 पोर्टल प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमियों को क्रेता से सीधा सम्पर्क कर अपने उत्पादों के विक्रय का मंच मुहैया कराएगा। पोर्टल के माध्यम से व्यवसायियों को अपने उत्पादों के लिए बड़ा बाजार सुलभ होगा। इस पोर्टल के जरिए से 24 घण्टे व्यवसाय किया जा सकेगा।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *