मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 14 अप्रैल, 2016 को लखनऊ में बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav greets people on anniversary of Baba Saheb Dr. Bhim Rao Ambedkar

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 14 अप्रैल, 2016 को लखनऊ में बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 14 अप्रैल, 2016 को लखनऊ में बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की जयन्ती पर प्रदेशवासियों को बधाई दी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने भारत रत्न एवं संविधान निर्माता बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की जयन्ती पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।आज यहां जारी बधाई संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर ने आजीवन दलितों, उपेक्षितों, शोषितों, अल्पसंख्यकों तथा पिछड़ों के अधिकारों के लिए संघर्ष किया। समाज में व्याप्त गैर बराबरी की भावना दूर करने तथा सामाजिक न्याय दिलाने के लिए संविधान में अनेक प्राविधान किये। डाॅ0 अम्बेडकर का मानना था कि सामाजिक कुरीतियों को दूर करके ही एक आदर्श समाज की स्थापना सम्भव है।

श्री यादव ने कहा कि महापुरूषों का चिंतन, विचारधारा तथा सन्देश समाज के प्रत्येक वर्ग के लिए कल्याणकारी होता हैंैं। उन्होंने कहा कि डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की जयन्ती पर उनके बताये हुए मार्ग पर चलने का संकल्प लेना चाहिए, यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 14 अप्रैल, 2016 को लखनऊ में बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती के अवसर पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 14 अप्रैल, 2016 को लखनऊ में बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती के अवसर पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए।

Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav has extended his greetings to the people of the state on the anniversary of the architect of the Constitution, Baba Saheb Dr. Bhim Rao Ambedkar.

In a message issued today, the Chief Minister recalled how Dr. Ambedkar strived for the welfare of the downtrodden, marginalized, Dalits and Minorities, all through his life. The great Dalit icon, Mr. Yadav said incorporated many provisions in the constitution to remove inequality from the society and to ensure social justice.

Dr. Ambedkar, he added, was of the firm belief that by removing social evils, the idea of an ideal society could come true. The Chief Minister also pointed out that thoughts, ethos and message of great persons were in itself for the welfare of every section of the society.

Mr. Yadav further stated that true homage to Dr. Ambedkar would be to tread the path shown by him.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *