मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 23 मई, 2016 को जनपद बरेली में निःशुल्क ईरिक्शा वितरण योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav distributes free e-rickshaws to 417 rickshaw pullers in Bareilly

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 23 मई, 2016 को जनपद बरेली में निःशुल्क ईरिक्शा वितरण योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 23 मई, 2016 को जनपद बरेली में निःशुल्क ईरिक्शा वितरण योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने बरेली में 417 रिक्शा चालकों को निःशुल्क ई-रिक्शा वितरित किए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज बरेली में 417 रिक्शा चालकों को ई-रिक्शा वितरित कर, उन्हें हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने ई-रिक्शा के लाभार्थियां को बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश के विभिन्न शहरों के रिक्शा चालकों को ई-रिक्शा मुफ्त में वितरित कर रहे हैं।

सरकार की मंशा बड़े पैमाने पर निःशुल्क ई-रिक्शा वितरित करने की है, ताकि अधिक से अधिक संख्या में रिक्शा चालकों को यह ई-रिक्शा उपलब्ध हो सके और वे स्वावलम्बी बन सकें। सरकार का यह प्रयास भी है कि इन ई-रिक्शों का मालिकाना हक भी रिक्शा चालकों को मिल जाए।

मुख्यमंत्री ने लखनऊ की तर्ज पर बरेली में भी मजदूरों को 10 रुपए में भोजन उपलब्ध कराने हेतु कैन्टीन खोलने के निर्देश जिलाधिकारी को दिए। उन्हांने कहा कि जिलाधिकारी इसकी व्यवस्था जल्दी करा लें। राज्य सरकार द्वारा इसके लिए हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। इस योजना के क्रियान्वयन से बरेली के मजदूरों को सस्ते मे अच्छा खाना उपलब्ध होने लगेगा।

ग्रामीण निर्धन परिवारों को अच्छे मकान उपलब्ध कराने के लिए चलाई जा रही लोहिया आवास योजना के विषय में बोलते हुए श्री यादव ने कहा कि इसके तहत प्रत्येक आवास के निर्माण पर 3.05 लाख रुपए की धनराशि खर्च की जा रही है। आने वाले समय में 2 लाख लोहिया आवास बनाए जाएंगे। इन आवासों में विद्युत व्यवस्था के लिए सोलर लाइट भी लगवाई जा रही हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बरेली में पिछले चार साल में लगातार बड़े स्तर से विकास एवं निर्माण कराए गए हैं। बरेली-हल्द्वानी, बरेली-बदायूं बाईपास, हाइवे की बाधाएं दूर कर कार्य में तेजी लाने आदि कार्य इसके प्रमाण हैं।

उन्होंने पानी की महत्ता पर बोलते हुए कहा कि जल हमारे जीवन के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए राज्य सरकार पानी के संरक्षण, संवर्द्धन हेतु तालाबां के सुदृढ़ीकरण का कार्य प्राथमिकता पर करा रही है। इससे सभी के लिए पानी उपलब्ध होगा।

उन्होंने पानी की महत्ता को समझने पर बल दिया और कहा कि यह अनमोल है। बुन्देलखण्ड में पानी की दिक्कत को दूर करने के लिए सरकार ने विभिन्न साधनों से पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करायी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार कौशल विकास मिशन संचालित कर रही है। इसके तहत नौजवानों को रोजगारपरक प्रशिक्षण के साथ-साथ कार्मिकों को दक्ष बनाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

इस अवसर पर उन्होंने आधुनिक विश्वकर्मा प्रमाण पत्र वितरित किए। यह प्रमाण पत्र दैनिक जागरण, मारिया डे एग्रो फूड प्रा0लि0 तथा आई0आई0टी रूड़की के सहयोग से मुहिम चलाकर यू0पी0 के राज मिस्त्रियों को भूकम्परोधी मकान बनाने का प्रशिक्षण पाने वाले राज मिस्त्रियां को प्रदान किए। इस प्रशिक्षण में राज मिस्त्रियां को एक हजार रुपए भत्ता व एक टूल किट भी प्रदान की गई।

इन प्रशिक्षण प्राप्त राज मिस्त्रियां को आधुनिक विश्वकर्मा प्रमाण पत्र प्रदान करते हुए मुख्यमंत्री ने दैनिक जागरण के श्री दिलीप अवस्थी को धन्यवाद देते हुए कहा कि भूकम्प कभी भी आ सकता है और इसके आने पर जान-माल का बहुत नुकसान होता है, लेकिन सूझ-बूझ से बनाए गए मकानां के निर्माण से इस नुकसान को कम किया जा सकता है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इन राज मिस्त्रियां द्वारा बनाए गए मकान सुरक्षित होंगे।

कार्यक्रम के दौरान विख्यात शायर श्री वसीम बरेलवी ने खुद को एम0एल0सी0 के पद से नवाजे जाने पर मुख्यमंत्री का शुक्रिया अदा किया। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने हमेशा बुद्धिजीवियों और साहित्यकारों को सम्मानित करने का कार्य किया है।

बरेली-बदायूं 4-लेन मार्ग का बदायूं में लोकार्पण करने के उपरान्त मुख्यमंत्री जनपद के रामगंगा तिराहे पर आयोजित इस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए बदायूं से सड़क मार्ग द्वारा निरीक्षण करते हुए कार्यक्रम स्थल पहुंचे।

इस अवसर पर सांसद श्री धर्मेन्द्र यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण सहित भारी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि ई-रिक्शा योजना के प्रत्येक लाभार्थी को सरकार द्वारा ड्राईविंग लाइसेंस, ई-रिक्शे का रजिस्ट्रेशन, रोड परमिट, बीमा निःशुल्क उपलब्ध कराया जाता है। ये ई-रिक्शे ईको फ्रैन्डली हैं और प्रदूषण से मुक्ति सम्बन्धित मानकों को पूरा करते हैं और एक बार फुल चार्ज करने पर ये कम से कम 80 से 100 कि0मी0 की दूरी तय करते हैं।

प्रत्येक ई-रिक्शे की अनुमानित कीमत लगभग 1.85 लाख रुपए है, जो लाभार्थी के लिए निःशुल्क है। इस ई-रिक्शे से प्रति कि0मी0 यात्रा का मूल्य मात्र 30 से 35 पैसे है। इस ई-रिक्शे के माध्यम से चालकों की आमदनी तो बढ़ेगी ही, साथ ही उनका स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा, क्योंकि अब उन्हें साइकिल रिक्शा की तरह हाड़-तोड़ मेहनत नहीं करनी पड़ेगी।

Chief Minister directs district magistrate to open a canteen for labourers where meals for Rs. 10 will be made available

In coming days, two lakh Lohia houses will be made in the state : Chief Minister

Chief Minister distributes ‘Modern Vishwakarma’ certificates to masons

Chief Minister visits Bareilly

Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav today distributed free e-rickshaws to 417 rickshaw pullers in Bareilly and flagged them off. Congratulating them on getting the new vehicles, the Chief Minister said the state government was distributing free e-rickshaws in many parts of the state and was planning to extend the drive further and ensure that rickshaw puller also retain ownership of the newly acquired vehicles.

In line with the meals @ Rs. 10 being provided to labourers in Lucknow, the Chief Minister also asked the district magistrate of Bareilly to open a canteen in the district and ensure cheap and quality food to labourers. The state government, the Chief Minister assured will extend all possible help in this endeavour.

Elaborating on the Lohia Housing Scheme being run by the state government to provide poor villagers quality housing, the Chief Minister said each house was being built at a cost of Rs. 3.05 lakh and that in coming days two lakh Lohia houses would be built. Mr Yadav also said that solar light was also being installed in these houses.

He further added that in the past four years, lot of development work was done in Bareilly and mentioned the Bareilly-Haldwani, Bareilly-Budaun bypass, clearing of the roadblocks in the way of the highway. Stressing on the need to conserve water, the Chief Minister said the state government hence was doing a lot of work to conserve and strengthen water bodies such as ponds.

He also pointed out that to ensure that there was enough water in parched Bundelkhand, water was being supplied through various means in that region. Mr Yadav said that the state government had also rolled out the UP Skill Development Mission through which thousands of youngsters were being trained for employment. The Chief Minister, on this occasions, also gave away the ‘Modern Vishvakarma’ certificates to masons.

The certificates were provided to the masons for getting trained, in a drive undertaken by the Dainik Jagran, Maria Day Agro Food Pvt Ltd and IIT Roorkie, to make earthquake-resistant houses. In this training, the masons were given Rs 1000 as allowances and one tool kit each.

The Chief Minister thanked the editor of Dainik Jagran Mr. Dileep Awasthi and said that everyone should be prepared for an earthquake since it can strike anytime and making houses with better techniques can save loss of lives and property.

During the function, eminent poet Mr. Waseem Bareilvi thanked Mr Yadav for nominating him to the legislative council to which Chief Minister said that his government always gave respect to intellectuals and literary figures.

After inaugurating the Bareilly-Budaun four-lane road, the Chief Minister went to the Ram Ganga tri-section at the function by road and inspected the quality of work. Also present during the function was Budaun MP Mr. Dharmendra Yadav, other people’s representatives, senior officers of the State Government and district administration and a large number of dignitaries.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *