मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार तथा यश भारती सम्मान समारोह सम्पन्न

Chief Minister Akhilesh Yadav at Rani Laxmi Bai award bravery and Yash Bharti award ceremony

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार तथा यश भारती सम्मान समारोह सम्पन्न
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार तथा यश भारती सम्मान समारोह सम्पन्न

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार तथा यश भारती सम्मान समारोह सम्पन्न

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा कि महिलाएं आधी दुनिया का प्रतिनिधित्व करती हैं। आधी आबादी की तरक्की के बिना देश का विकास सम्भव नहीं है। समाजवादियों ने हमेशा महिलाओं को बराबरी का हक दिलाने की कोशिश की है। इसीलिए महिलाओं के आत्म-सम्मान, सुरक्षा और सशक्तिकरण के लिए समाजवादी सरकार द्वारा लगातार ठोस कदम उठाए गए हैं।

मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आयोजित रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार वितरण समारोह में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली 86 महिलाओं व संस्थाओं तथा प्रदेश की 306 महिला ग्राम प्रधानों को रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार 2016-17 से सम्मानित किया गया। साथ ही, विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट उपलब्धियां हासिल करने वाले 7 महानुभावों को यश भारती सम्मान से नवाजा गया।

इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने 10 जनपदों-बरेली, मेरठ, गाजियाबाद, कानपुर, कन्नौज, लखनऊ, इलाहाबाद, गाजीपुर, गोरखपुर एवं वाराणसी में पायलेट प्रोजेक्ट के तौर पर आशा ज्योति केन्द्रों का लोकार्पण, जनपद कन्नौज में स्टेट रिसोर्स सेण्टर फाॅर विमेन एण्ड चाइल्ड (SRCWC) का शिलान्यास तथा सरकारी नौकरियों के प्रतियोगियों के लिए ऐप sarkaripariksha.com को लाॅन्च भी किया।

मुख्यमंत्री की मौजूदगी में जेण्डर इक्वाॅलिटी और महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य से स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के सेण्टर फाॅर इनोवेशन इन ग्लोबल हेल्थ एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के बीच एम0ओ0यू0 का आदान-प्रदान किया गया। मुख्यमंत्री ने मानव तस्करी रोकने के विशेष प्रयास के लिए इलाहाबाद के जिलाधिकारी श्री संजय को प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने महिला सशक्तिकरण के लिए काम करने वाली संस्थाओं सांझी दुनिया, हमसफर एवं विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्यों से उपलब्धियां हासिल करने वाली महिलाओं सुश्री कामिनी श्रीवास्तव, सुश्री रजबुन निसा, सुश्री सुषमा साहू, सुश्री प्राची शर्मा, सुश्री प्रतिभा, डाॅ0 मालविका हरिओम, सुश्री निष्ठा शर्मा तथा महिला ग्राम प्रधानों श्रीमती सविता, श्रीमती सपना सिंह, श्रीमती फरजाना बेगम, श्रीमती नफसा बानो, श्रीमती धर्मशीला, श्रीमती डिम्पल सिंह, श्रीमती प्रीती शाही, श्रीमती मन्जू देवी, श्रीमती श्यामपता देवी, श्रीमती सम्फुला, श्रीमती अंजली यादव, श्रीमती आशा सिंह, सुश्री स्मृति सिंह, श्रीमती लज्जा देवी, श्रीमती प्रभावती देवी, श्रीमती सुदामा देवी तथा श्रीमती अमीना बेगम को रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया।

श्री यादव ने सुप्रसिद्ध पियानों वादक श्री ब्रायन साइलस, पैरा बैडमिण्टन खिलाड़ी श्री गौरव खन्ना, खेल प्रशासन से जुड़े श्री आनन्देश्वर पाण्डेय, साहित्यकार डाॅ0 राम सिंह यादव, संगीतकार श्री दवेन्दर सिंह तथा बाडी बिल्डर, 5 बार मिस्टर इण्डिया रह चुके श्री वसी खां व लोक गायिका सुश्री रिचा जोशी को यश भारती सम्मान प्रदान किया

मुख्यमंत्री ने रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार तथा यश भारती सम्मान से सम्मानित सभी महानुभावों को बधाई व शुभकानाएं देते हुए भरोसा जताया कि इन सम्मानों से अन्य प्रदेशवासी भी अपने-अपने कार्य क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित होंगे। उन्होंने कहा कि यश भारती सम्मान नेताजी द्वारा शुरू किया गया था। देश की कई नामी हस्तियां इससे सम्मानित की जा चुकी हैं। उत्तर प्रदेश एक बड़ा राज्य है। यहां काफी प्रतिभाएं हैं। प्रदेश की तमाम प्रतिभाएं देश-विदेश में राज्य का नाम रोशन कर रही हैं। समाजवादी सरकार ऐसी विभूतियों को सामने लाने का काम कर रही है।

श्री यादव ने कह कि समाजवादी सरकार विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों के माध्यम से बालिकाओं और महिलाओं को आगे बढ़ने के ज्यादा से ज्यादा अवसर मुहैया करा रही है। साड़ी वितरण योजना के स्थान पर समाजवादी सरकार ने समाजवादी पेंशन योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से 55 लाख गरीब परिवारों को प्रतिमाह 500 रुपए की आर्थिक सहायता मुहैया करायी जा रही है। पेंशन धनराशि परिवार की महिला मुखिया को दी जाती है। इससे गरीब परिवारों को काफी राहत मिली है। आने वाले समय में सभी गरीब परिवारों को समाजवादी पेंशन योजना के तहत लाया जाएगा। कन्या विद्या धन योजना ने गरीब छात्राओं के बेहतर भविष्य के रास्ते खोले हैं। निःशुल्क लैपटाॅप वितरण योजना का लाभ पाने वालों में लगभग 60 प्रतिशत छात्राएं शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार ने महिलाओं के स्वास्थ्य एवं पोषण के लिए भी पूरे प्रयास किए हैं। गर्भवती माताओं और अतिकुपोषित बच्चों के लिए हौसला पोषण योजना लागू की गयी है। इसके तहत, गर्भवती महिलाओं और अतिकुपोषित बच्चों को गर्म और पके हुए भोजन के साथ फल भी मुहैया कराया जा रहा है। समाजवादी सरकार द्वारा शुरू की गयी ‘1090’ विमेन पावर लाइन ने महिलाओं में सुरक्षा की भावना को मजबूत किया है। इसके माध्यम से 6 लाख से भी अधिक महिलाओं की समस्याओं का समाधान हुआ है। यह योजना देश के सामने एक उदाहरण है।

श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने प्रदेश में लगातार सकरात्मक बदलाव लाने की कोशिश की है। यह बदलाव दिखायी भी पड़ रहा है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के निर्माण से केवल देश और प्रदेश की राजधानियां ही नहीं जुड़ीं बल्कि अनेक शहर और गांव भी जुड़े हैं। समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से प्रदेश के पूर्वी इलाके में भी आर्थिक गतिविधियां बढेंगी और इस क्षेत्र का विकास भी सम्भव हो पाएगा। अभी तक 50 से भी अधिक जिला मुख्यालयों को 4-लेन सड़कों से जोड़ा जा चुका है। बुन्देलखण्ड में बड़ी संख्या में तालाब और डैम का निर्माण कराया गया है। प्रदेश के हर जिले में कोई न कोई बड़ी परियोजना संचालित की गई है। इसलिए कहा जा सकता है कि समाजवादियों का काम बोलता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि काला धन, भ्रष्टाचार आदि जिन उद्देश्यों के लिए नोटबंदी शुरू की गई थी, उसमें असफल रही है। नोटबंदी से आम जनता को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। अर्थव्यवस्था काफी पीछे चली गयी है। ग्रामीण इलाकों की बैंक शाखाओं में अभी तक पैसा नहीं मिलता।

कार्यक्रम को मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार श्री आलोक रंजन तथा यश भारती से सम्मानित श्री राम सिंह यादव ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम के अन्त में प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास सुश्री रेनुका कुमार ने मुख्यमंत्री सहित सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चौधरी, सांसद श्रीमती डिम्पल यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी व अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *