मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 30 अप्रैल, 2016 को कार्यक्रम में फेमिना मिस इण्डिया2016 की द्वितीय रनरअप सुश्री पंखुड़ी गिडवानी को पुरस्कृत करते हुए।

Chief Minister Akhilesh Yadav addresses ‘First UP Flo Womens Awards’, gives away prizes to winners

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 30 अप्रैल, 2016 को कार्यक्रम में फेमिना मिस इण्डिया2016 की द्वितीय रनरअप सुश्री पंखुड़ी गिडवानी को पुरस्कृत करते हुए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 30 अप्रैल, 2016 को कार्यक्रम में फेमिना मिस इण्डिया2016 की द्वितीय रनरअप सुश्री पंखुड़ी गिडवानी को पुरस्कृत करते हुए।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने ‘फर्स्ट यूपी फ्लो विमेन्स अवार्ड्स’ कार्यक्रम को सम्बोधित किया

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कार भी वितरित किए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा कि किसी भी समाज की प्रगति के लिए उसकी आधी आबादी की तरक्की बहुत जरूरी है। महिलाओं की अनदेखी कर कोई भी देश या समाज आगे नहीं बढ़ सकता है, इसलिए तरक्की के लिए महिलाओं को आगे बढ़ने का मौका देना होगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी महिलाओं का बहुत सम्मान करते हैं। इसके मद्देनजर समाजवादी सरकार ने महिलाओं के कल्याण एवं उनकी सुरक्षा के लिए कई योजनाएं चलायी हैं।

मुख्यमंत्री ने यह विचार आज यहां होटल ताज में फिक्की लेडीज आॅर्गेनाइजेशन (फ्लो) द्वारा आयोजित ‘फर्स्ट यूपी फ्लो विमेन्स अवार्ड्स’ कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। इस अवाॅर्ड कार्यक्रम को आयोजित करने के लिए उन्होंने आयोजकों को बधाई देते हुए कहा कि महिलाएं हर सेक्टर में अच्छा कार्य कर रही हैं। वे न केवल अब उद्योग जगत में भी अपनी पैठ बना रही हैं, बल्कि अपनी उपलब्धियों से सफलता की नई इबारत भी लिख रही हैं।

श्री यादव ने कहा कि राज्य सरकार महिलाओं के कल्याण एवं सुरक्षा के लिए कई योजनाएं चला रही है, जिनमें कन्या विद्या धन योजना, समाजवादी पेंशन योजना, ‘1090’ विमेन पावर लाइन, ‘102’ नेशनल एम्बुलेंस सर्विस, निःशुल्क लैपटाॅप वितरण योजना, रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष इत्यादि शामिल हैं। राज्य सरकार महिलाओं के उत्थान के लिए हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं की प्रगति में शिक्षा का बहुत महत्व है। इसी के दृष्टिगत राज्य सरकार द्वारा कन्या विद्या धन योजना लागू की गई है, ताकि बालिकाएं अपनी आगे की पढ़ाई जारी रख सकें। निःशुल्क लैपटाॅप वितरण के माध्यम से बड़ी संख्या में लड़कियों को लाभान्वित किया गया है, जिसका अब उन्हें भरपूर लाभ मिल रहा है। वे लैपटाॅप और इण्टरनेट के उपयोग के माध्यम से अपने बहुत से कार्य कर रही हैं और आगे बढ़ रही हैं।

श्री यादव ने कहा कि रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष के माध्यम से महिलाओं को सम्मानित करने के साथ-साथ उनकी अन्य जरूरतों को भी पूरा किया जा रहा है। महिला खिलाडि़यों को रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है। राज्य सरकार महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के साथ-साथ उन्हें उद्यमशील भी बना रही है।

उन्होंने कहा कि कामधेनु योजना के माध्यम से महिलाओं को स्वावलम्बी बनाया जा रहा है। उनकी मदद स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से भी की जा रही है। समाजवादी पेंशन योजना के माध्यम से परिवार की महिला मुखिया को 500 रुपए प्रति माह की सहायता राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है। यह राशि उनके खाते में सीधे अंतरित की जा रही है।

महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने की दृष्टि से स्थापित की गई ‘1090’ विमेन पावर लाइन का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे उनका मनोबल बढ़ा है और वे सुरक्षित महसूस कर रही हैं। मेट्रो रेल प्रोजेक्ट, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे इत्यादि का लाभ भविष्य में महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण का भी आधार बनेगा।
उन्होंने कहा कि लखनऊ और कानपुर भविष्य के बड़े शहर हैं और यहां मौजूद विभिन्न सुविधाओं का भी लाभ महिलाओं को मिलेगा। राज्य सरकार द्वारा लागू की जा रही अन्य विकास योजनाओं का भी भरपूर लाभ महिलाओं को मिलेगा।

श्री यादव ने ‘आशा’ कार्यकर्ताओं के कार्य की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे जमीनी स्तर पर बहुत अच्छा कार्य कर रही हैं और इसका लाभ वंचित वर्गों की महिलाओं को मिल रहा है।

पारम्परिक उद्योगों के माध्यम से महिलाओं के आर्थिक उत्थान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि लखनऊ की चिकनकारी उद्योग में महिला स्वयं सहायता समूहों ने अच्छा कार्य किया है। इसी प्रकार हम अन्य पारम्परिक उद्योगों का भी उपयोग महिला सशक्तिकरण के लिए कर सकते हैं।

यश भारती सम्मान का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा दिए जा रहे इस पुरस्कार के माध्यम से बड़ी संख्या में महिलाओं को भी नवाजा गया है। उन्होंने कहा कि इस पुरस्कार की विशेषता यह है कि इसे पाने वाले व्यक्ति को 50 हजार रुपए प्रति माह की पेंशन भी राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जाती है।

उन्होंने आशा व्यक्त की कि फिक्की लेडीज़ आॅर्गेनाइजेशन भविष्य में भी इस प्रकार के आयोजन करता रहेगा, ताकि महिलाओं की हौसला अफजाई होती रहे। उन्होंने कहा कि सरकार महिलाओं के उत्थान के लिए कटिबद्ध है और इसके लिए फिक्की लेडीज़ आॅर्गेनाइजेशन की किसी भी पहल में वह हर सम्भव सहायता प्रदान करेगी।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने अपनी-अपनी श्रेणी में विजेता महिलाओं को पुरस्कार वितरित किए। कार्यक्रम के दौरान कन्नौज की सांसद श्रीमती डिम्पल यादव, प्रमुख सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल सहित बड़ी संख्या में महिलाएं एवं गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

ज्ञातव्य है कि देश की महिला उद्यमियों और औद्योगिक क्षेत्र में महिलाओं के लिए काम करने वाले स्वयंसेवी संगठनों को अलग पहचान देने के लिए फिक्की द्वारा फिक्की लेडीज़ आॅर्गेनाइजेशन की स्थापना 1983 में की गई थी।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 30 अप्रैल, 2016 को आयोजित ‘फस्र्ट यूपी फ्लो विमेन्स अवाडर््स‘ कार्यक्रम में पुरस्कृत महिलाओं के साथ।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 30 अप्रैल, 2016 को आयोजित ‘फस्र्ट यूपी फ्लो विमेन्स अवाडर््स‘ कार्यक्रम में पुरस्कृत महिलाओं के साथ।

Progress of half population must for of the society : Chief Minister

Socialists have immense respect for Women

Samajwadi Government has undertaken many schemes for welfare and safety of Women

No nation or society can progress by ignoring Women

Traditional Industry should be used for women empowerment

Uttar Pradesh Chief Minister Mr Akhilesh Yadav has said that for development of any society, progress of half its population was necessary and said that ignoring them was at their own peril. He added that socialists had immense respect for women and it was for this reason that many a schemes have been rolled out for the welfare and safety of women.

The Chief Minister made these observations while speaking at the ‘First UP Flo Womens Awards’ event organised by the FICCI Ladies Organization (FLO) at the hotel Taj. Congratulating the organizers, the Chief Minister pointed out that the success of women was now not only restricted to business but that they were scripting new chapters of success every day.

Mr Yadav spoke of schemes like ‘1090’ Women Powerline and the ‘102’ National Ambulance Service along with other schemes like the free laptop distribution, Kanya Vidya Dhan scheme and setting up of the Rani Laxmibai Mahila Samman Kosh among others.

Underlining the pivotal role of education in progress of women, the Chief Minister said these schemes were instrumental in empowering the girls and women with the strength and facilities to go in for higher education. He specially mentioned the Samajwadi Pension Scheme, which was providing for Rs 500 per month to the women head of the family through direct benefit transfer to their bank account.

Mr Yadav praised the role of ‘Asha’ workers and said that they were doing tremendous job at the ground level which in turn was benefitting the marginalized women. He also said that a large numer of Yash Bharti winners were women, and people getting this award also get a Rs 50,000 pension per month.

He also expressed hope that in future too, Flo would continue to encourage women through such events and assured them of full cooperation and help in this endeavour. Before this, the Chief Minister gave away the awards to winners under various categories. Also present during the event were Kannauj MP Mrs Dimple Yadav, Principal Secretary (Information) Mr Navneet Sehgal, a large number of women and other dignitaries. It may be pointed out here that the Flo was formed in 1983.

Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *