Sabji

Cases of Coronavirus is increasing in Faridabad Haryana

सावधान! फरीदाबाद में फिर बढ़ने लगा है कोरोना संक्रमण

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे हरियाणा के औद्योगिक जिले फरीदाबाद में कोरोना संक्रमण प्रतिदिन नया रिकार्ड बना रहा है। बृहस्पतिवार को स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना के 372 नए मामलों की पुष्टि की है। इस तरह तीन दिन में कोरोना के एक हजार से अधिक मामले हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग एकाएक फिर से कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह प्रदूषण, बढ़ रही ठंड और त्योहारी माहौल में बाजार में खरीदारी के लिए भीड़ उमड़ना बता रहा है। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन चितित है और उनके समक्ष एक बार फिर से चुनौतियां खड़ी होती नजर आ रही हैं।

ठंड व प्रदूषण में अधिक देर तक सक्रिय रहता है वायरस

पिछले तीन दिनों से कोरोना संक्रमण रोजाना नया रिकार्ड बना रहा है। इसके अलावा कोरोना संक्रमण के बढ़ने का दूसरा प्रमुख कारण प्रदूषण को भी माना जाता है। ठंड की वजह से प्रदूषण के बारीक कण भारी हो जाते हैं और वह ऊपर नहीं जा पाते हैं। वह हमारे वातावरण में घूमते रहते हैं। ऐसे में यदि संक्रमित छींकता या खांसता है, तो मुंह से निकलने वाले ड्रापलेट (थूक) बहुत देर तक हवा में रहता है। यदि उनके संपर्क में कोई स्वस्थ व्यक्ति आता है, तो उसके संक्रमित होने की आशंकाएं बढ़ जाती है। इसके अलावा ठंड का मौसम वायरस के लिए उपयुक्त होता है और तेजी से सक्रिय हो जाता है।

बाजार में खरीदारी करो, पर सावधानी बरतो

दिवाली का त्योहार नजदीक आ गया है। ऐसे में लोग दिवाली की खरीदारी के लिए घर से बाहर निकल रहे हैं, पर शारीरिक दूरी एवं मास्क लगाना भूल जाते हैं। बाजारों में लोगों को शारीरिक दूरी व बिना मास्क के घूमते देखा जा सकता है। स्वस्थ व्यक्ति के अलावा ऐसे लोग भी बाजार में आ रहे हैं, जो कोरोना से संक्रमित तो हैं, लेकिन उनमें लक्षण नहीं हैं। ऐसे में यदि कोई उनके संपर्क में स्वस्थ व्यक्ति आ जाता है, तो उसके भी संक्रमित होने की आशंकाएं कई गुना बढ़ जाती है। इसलिए बेहद जरूरी है कि हम बाहर जाते समय मास्क लगाएं, शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करें और हाथों को नियमित रूप से सैनिटाइज करें।

स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना सैंपलिग को भी बढ़ा दिया है, ताकि बिना लक्षण वाले संक्रमित की पहचान कर उसे आइसोलेट किया जा सके। रोजाना दो हजार के करीब सैंपलिग की जा रही है। जिलेवासियों को भी स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करना चाहिए। वह बाजार में शारीरिक दूरी का पालन करें और मुंह पर मास्क अवश्य लगाएं। -डा. रामभगत, उपमुख्य चिकित्सा अधिकारी

यदि लोगों ने घर से बाहर मास्क लगाए रखने और शारीरिक दूरी के नियमों को गंभीरता से नहीं लिया, तो आने वाले दिन और भी डरावने हो सकते हैं। खांसी-जुकाम होने पर लापरवाही न बरतें और जांच करवाएं। -डा.रवि शेखर झा, श्वास रोग विशेषज्ञ, फोर्टिस एस्का‌र्ट्स अस्पताल तारीख- नए मामले- ठीक हुए

  • 5 नवंबर- 372 – 265
  • 4 नवंबर- 359 – 238
  • 3 नवंबर- 296 – 206
  • 2 नवंबर- 223 – 206
  • 1 नवंबर- 296 – 221
  • 31 अक्टूबर – 282- 212
  • 30 अक्टूबर- 270 – 167
Musing India
Author: Musing India

musingindia.com is a leading company in Hindi / English online space. musingindia.com is a leading company in Hindi/English online space. Launched in 2013, musingindia.com is the fastest growing Hindi/English news website in India, and focuses on delivering around the clock national and international news and analysis, business, sports, technology entertainment, lifestyle and astrology. As per Google Analytics, musingindia.com gets 10,000 Unique Visitors every month.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *