Flat

Bunglow of Bishan Bansal director of SRS Group sealed

एसआरएस ग्रुप के निदेशक बिशन बंसल की कोठी पर बैंक का कब्जा

रीयल एस्टेट, ज्वैलरी, माइनिग सहित कई अन्य कारोबार से जुड़ी एसआरएस ग्रुप ऑफ कंपनीज के निदेशक बिसन बंसल का सेक्टर-9 स्थित मकान भी बैंक ऑफ बड़ौदा ने कब्जे में ले लिया है। लोन लेकर वापस ना करने के कारण बैंक ने यह कार्रवाई की है। बैंक ने मकान का मुख्य गेट सील कर उस पर कब्जे का लेटर चस्पा कर दिया है। इससे पहले बैंक बिसन बंसल की सेक्टर-10 स्थित कोठी को भी कब्जे में ले चुका है। बिसन बंसल पर बैंक का करीब 70 करोड़ रुपये बकाया है, जिसका भुगतान अप्रैल 2017 के बाद नहीं किया गया।

एसआरएस ग्रुप के निदेशक बिशन बंसल की सेक्टर-10 स्थित कोठी को बैंक ऑफ बड़ौदा ने सील कर कब्जे में ले लिया है। बंसल पर बैंक का करीब 70 करोड़ रुपये बकाया है, जिसका भुगतान अप्रैल 2017 के बाद नहीं किया गया।

एसआरएस ग्रुप के चेयरमैन व निदेशकों के खिलाफ सेक्टर-31 थाने में 4 मार्च 2018 को एक साथ 22 मामले दर्ज किए गए थे। इसके बाद कई और मामले दर्ज हुए और उनकी जांच आर्थिक अपराध जांच शाखा को सौंप दी गई। ईओडब्ल्यू ने सूचना के आधार पर 4 अप्रैल 2018 को महिपालपुर स्थित होटल आमरा से अनिल जिंदल, नानकचंद तायल, बिशन बंसल, देवेंद्र अधाना व विनोद मामा को गिरफ्तार किया था। सभी आरोपी अभी जेल में हैं। ब्याज और फ्लैट के नाम पर लोगों की गाढ़ी कमाई हड़पने के आरोप में इनके खिलाफ विभिन्न एजेंसियां जांच कर रही हैं।

बता दें कि एसआरएस ग्रुप के चेयरमैन व निदेशकों के खिलाफ सेक्टर-31 थाने में 4 मार्च 2018 को एक साथ 22 मामले दर्ज किए गए थे। इसके बाद कई और मामले दर्ज हुए और उनकी जांच आर्थिक अपराध जांच शाखा को सौंप दी गई। आर्थिक अपराध जांच शाखा ने सूचना के आधार पर 4 अप्रैल 2018 को महिपालपुर स्थित होटल आमरा से अनिल जिदल, नानकचंद तायल, बिशन बंसल, देवेंद्र अधाना व विनोद मामा को गिरफ्तार किया था। सभी आरोपी अभी जेल में हैं। इनके ऊपर आरोप है कि निवेशकों को मोटे मुनाफे का लालच देकर उनकी गाढ़ी कमाई हड़प ली। इसके अलावा कई बैंकों से करोड़ों रुपये लोन लेकर वापस ना लौटाने का भी आरोप इनके ऊपर है। अब बैंकों ने भी ऋण भुगतान नहीं होने पर कार्रवाई शुरू कर दी है। कुछ समय पहले बैंक ने अनिल जिदल की चार कोठियों को कब्जे में लिया था। इनमें से जिदल के दो मकानों को बैंक बेच भी चुका है।

वहीं, अब बैंकों ने भी ऋण भुगतान नहीं होने पर इनके खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। कुछ समय पहले बैंक ने अनिल जिंदल की चार कोठियों को कब्जे में लिया था। अब बैंक ने एसआरएस ग्रुप के निदेशक बिशन बंसल की सेक्टर-10 स्थित कोठी को भी कब्जे में ले लिया है। बैंक अधिकारियों ने कोठी के दोनों गेट पर ताला लगा उन्हें सील कर दिया है और उन पर ऋण भुगतान नहीं होने के कारण कब्जे में लेने का नोटिस चस्पा दिया है। कोठी बिशन बंसल की पत्नी और बेटी के नाम है।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *